निर्भया कांड के दोषियों को मैं दूंगा फांसी : रिटायर्ड फौजी


khandwa {ओंकारेश्वर} निर्भया कांड के आरोपितो को फांसी देने के लिए खण्डवा के ओमकारेश्वर निवासी युवक जल्लाद बनने को तैयार है । इसके लिए युवक ने राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री से गुहार लगाई और कहा कि वह यह काम बिना किसी शुल्क के करने को तैयार है।वह इस काम के लिए सरकारी खाते में अपने पास से पांच लाख रुपये जमा भी करेगा।

राष्ट्रपति और प्रधानमन्त्री को पत्र लिख रहे इस युवक का नाम प्रदीप सिंह ठाकुर है।जो फौज से रिटायर्ड होते हुए समाजसेवी है इनके द्वारा भारत सरकार को स्वयं की देह दान भी कर चूके हैं। ओमकारेश्वर के प्रदीप सिंह ठाकुर का कहना है कि उन्होनें जब समाचार पत्रों में खबर पढ़ी की निर्भया कांड के आरोपितों को सिर्फ इस वजह से फांसी नही दी जा रही है,क्योंकि जेल में कोई जल्लाद की नियुक्ति नही है।

इससे वह आत्मग्लानि से भर गए। और उन्होंने राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को पत्र व्यवहार कर जल्लद बनने की पेशकश की। उन्होंने इंदौर के जाने माने एडवोकेट आनन्द मोहन से चर्चा कर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के नाम पत्र लिखा। जिसे वकील के माध्यम से राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को पत्र भेजें हैं।

प्रदीप का कहना है कि सरकारी जल्लाद की कमी की वजह से आरोपियों को फांसी नही दी जा रही है। आरोपियों को फांसी हो इसलिए वह जल्लाद बनने को तैयार है।हैदराबाद रेप कांड के आरोपियों के इनकाउंटर के बाद निर्भया के आरोपितों को फांसी जरुरी हैं इसका मुझे अवसर मिला तो स्वयं को धन्य समझूंगा।
रिपोर्ट : मनोज त्रिवेदी