पीएम, PM को जन्म देते थे, मगर हमने यह बदल दिया – गडकरी

0
18

भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता और मोदी सरकार में केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को कहा कि भारत गरीब आबादी के साथ अमीर देश है क्योंकि शुरू में जिन्होंने इस देश में शासन किया, उन्होंने अपने परिवारों को फायदा पहुंचाया।

नितिन गडकरी ने हैदराबाद में भारतीय जनता युवा मोर्चा को संबोधित करने के दौरान यह बात कही।

नितिन गडकरी ने हैदराबाद में संबोधन के दौरान कहा कि बीजेपी एक परिवार की पार्टी नहीं है। यह वह पार्टी नहीं है जो जाति, धर्म और भाषा के आधार पर राजनीतिक करती है।

अटल बिहारी वाजपेयी जी हमारे सबसे बड़े नेता थे, मगर बीजेपी कभी उनके या फिर लाल कृष्ण आडवाणी के नाम से नहीं पहचानी गई और आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह जी हैं। नेतृत्व बदलता गया मगर पार्टी कभी किसी खास व्यक्ति के नाम पर नहीं चली। यह पार्टी विचारों और सिद्धातों के आधार पर काम करती है।

उन्होंने आगे कहा कि पहले प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री को जन्म दिया, मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री को जन्म दिया और ऐसे ही चलता रहा। लोकतंत्र खत्म होने के कगार पर था। मगर हमने इसे बदल दिया।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को कहा कि केंद्र तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश और तेलंगाना की पानी की जरूरतों को पूरा करने के उद्देश्य से नदियों को जोड़ने के लिये प्रतिबद्ध है।

भारतीय जनता युवा मोर्चा (बीजेवाईएम) के राष्ट्रीय सम्मेलन में प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार ने छह नदियों को जोड़ने की योजना बनाई है जिस पर करीब दो लाख करोड़ की लागत आएगी।

उन्होंने कहा, ‘आंध्र प्रदेश में हमनें पोलावरम सिंचाई परियोजना पर ध्यान केंद्रित किया है। हमनें अब तक सात हजार करोड़ रुपये लिये हैं। इसे केंद्र सरकार के कोष से तैयार किया जा रहा है।’

गडकरी ने आरोप लगाया कि कुछ लोग जनता को यह कहकर गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं कि सरकार परियोजना पर ध्यान केंद्रित नहीं कर रही है।

उन्होंने कहा, ‘हम बांध को पूरा करेंगे। गोदावरी नदी का अतिरिक्त पानी जो समुद्र में जा गिरता है उसे कृष्णा नदी की तरफ मोड़ा जाएगा।’