चौटाला ने लोगों को इनैलो सरकार की एडवांस में बधाई दी

Chautalaकैथल [ TNN ] जेल में जाने के बाद पहली बार कैथल शहर में आयोजित विशाल रैली को संबोधित करते हुए इनैलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ने कहा कि हरियाणा में इनैलो की सरकार बनने पर अलग से व्यापारी एवं कर्मचारी आयोग का गठन किया जाएगा। जिसमें व्यापारियों के प्रतिनिधि सदस्य होंगे। आप लोग कैथल से कैलाश भगत को जिताओ, फिर मैं वही करूंगा जो कैलाश कहेगा।

पहली कलम से ही व्यापारियों की समस्याओं को दूर करूंगा उसका श्रेय केवल कैलाश भगत को जाएगा। कैथल के हूडा मैदान में आयोजित रैली में उमड़ी लोगों की विशाल भीड़ को देखकर गद्गद् हुए चौटाला ने लोगों को इनैलो सरकार बनने की एडवांस में बधाई देते हुए कहा कि जब धरती पर जुल्म और ज्यादती बढ़ जाती है तो जनता एकजुट होकर संघर्ष करती है। स्व. चौधरी देवी लाल के संघर्ष को पूरा देश आज भी याद करता है।

चौटाला ने लोगों से चारों सीटों पर जिताने की बात कही तो हजारों हाथ एक दम उठे जिस देखकर स्वयं चौटाला प्रफुल्लित हो उठे और लोगों को भरोसा दिलाया कि वह उनके विश्वास पर खरा उतरकर पूरे जिले के सदैव ऋणी रहेंगे। कैथल में मेरे पुराने साथी पूर्व सी.पी.एस. पं. रोशनलाल तिवारी, पूर्व मंत्री सुरेंद्र मदान सहित प्रदेश कोषाध्यक्ष पारस मित्तल जैसे नेता आज हमारे साथ जनता के हितों के लिए संघर्ष में इसलिए हैं कि वे भी हमारी तरह लोगों के दुख सहन नहीं कर सकते।

उन्होंने कहा कि कैथल जिले ने हमारी पार्टी का दशकों से साथ दिया है आज भी मैं इसी उम्मीद और भरोसे के साथ आया हूं कि विधानसभा में स्पष्ट बहुमत कैथल जिले की चारों विधानसभी सीटों विजयी उम्मीदवार ही दिलाएंगे। देश को अन्न प्रदान करने वाला किसान आत्महत्या को मजबूर हैं। जिस कारण जनता कांग्रेस की जुल्म करने वाली इस सरकार को बदलना चाहती है।

लोकतंत्र में चुनाव ही ऐसा माध्यम है, जब जनता अपनी पसंद की सरकार बना सकती है। उन्होंने कहा कि परिस्थितियां बदला करती हैं। हरियाणा में भी हालात बदलने वाले हैं। प्रदेश में इनैलो की सरकार बनने जा रही है। राज्य के लोगों पर जुल्म करने वालों से हिसाब-किताब चुकता किया जाएगा। चौटाला ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने मुझे बिना वजह जेल भेजा है।

मेरा केवल इतना ही कुसूर था कि मैंने 3206 परिवारों को रोजी-रोटी देने का काम किया था। कांग्रेस की सोच थी कि उन्हें जेल मे करके इनैलो के संगठन को खत्म कर देंगे। लेकिन मुझे गर्व है अपने उस कर्मठ कार्यकत्र्ता पर, जो मेरे साथ हर घड़ी में खड़ा रहा। उन्होंने कहा कि संकट में इनैलो में रहने वाला कार्यकत्र्ता मुझे जान से भी प्यारा है।

चौटाला ने कहा कि कुछ नेता हमें जात-पात में बांटने का काम करते हैं लेकिन इनैलो 36 बिरादरी का संगठन है। चौधरी देवी लाल ने पी.एम. की कुर्सी पर खुद की बजाए वी.पी.सिंह को बैठाकर त्याग की मिसाल कायम की थी। उन्होंने भी सी.एम. रहते हुए वोट देने या न देने को लेकर किसी के साथ ज्यादती नहीं की। इनैलो का मकसद लोगों की मूलभूत जरुरीयात को पूरा करना है।

विभिन्न प्रकार के संकट से जूझ रहे किसानों की समस्याओं की चर्चा करते हुए चौटाला ने वायदा किया कि इनैलो सरकार बनते ही हरियाणा में स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू किया जाएगा ताकि हरियाणा का किसान खुशहाल हो सके। उद्योग स्थापित करवाकर बेरोजगारी को दूर करवाया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए चौटाला ने कहा कि जहां-जहां मोदी जा रहे हैं, वहां-वहां इनैलो मजबूत होती जा रही है।

चौटाला ने यह भी कहा कि हमारे पास चौधरी देवीलाल का चेहरा है। हमारे चेहरे में इतनी चमक है कि किसी दूसरे चेहरे की आवश्यकता ही नहीं। कार्यकत्र्ताओं का आह्वान करते हुए चौटाला ने कहा कि वे अपने छोटे-मोटे मतभेद भुलाकर इनैलो प्रत्याशियों को जितवाने का काम करें। कलायत से प्रत्याशी व पार्टी के वरिष्ठ नेता रामपाल माजरा ने कहा कि चौटाला द्वारा प्रदेश भर में रैलियों के संबोधन से पार्टी के हर छोटे बड़े कार्यकत्र्ता में जो जज्बा व उत्साह उत्पन्न हुआ है निश्चित तौर पार्टी उम्मीदवारों को इसका लाभ मिलेगा।

उन्होंने दावा किया 65 सीटें जीतकर इनैलो ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में फिर से सरकार बनाएगी। यह सुनकर उमड़ी भीड़ ने जोरदार तालियां बजाई और हाथ खड़े कर चौटाला सहित सभी नेताओं को जीत का आश्वासन दिया। इनैलो प्रत्याशी कैलाश भगत ने कहा कि आज उन्होंने शहरी व ग्रामीण भाईयों के लिए चौटाला साहब से अलग से बात की है और उन्होंने मुझे भरोसा दिलाया है कि एक-एक शहरी भाई के सुख-दुख में वे 24 घंटे उपस्थित रहेंगे। इस मौके पर इनैलो के स्टार प्रचारक अवतार सिंह भड़ाना, कलायत प्रत्याशी रामपाल माजरा, कैथल प्रत्याशी कैलाश भगत, गुहला-चीका के प्रत्याशी बूटा सिंह व पूंडरी प्रत्याशी तेजवीर सिंह रोड़ ने भी जनसभा को संबोधित किया। विशाल जनसभा का कुशल मंच संचालन पूर्व प्रदेश सचिव अशोक जैन ने किया।

इस मौके पर पूर्व मंत्री सुरेंद्र मदान, पूर्व सी.पी.एस. पं. रोशनलाल तिवारी, प्रदेश कोषाध्यक्ष पारस मित्तल, जाट नेता धर्मपाल छौत, डा. मेहरसिंह सैनी, वयोवृद्ध गांधी वादी पं. नारायण दत्त शास्त्री, अग्रवाल नेता कृष्ण बंसल, अमरजीत छाबड़ा, जाट शिक्षा समिति के पूर्व प्रधान बलवान कोटड़ा, जिला शहरी प्रधान प्रदीप शर्मा, पूर्व विधायक मक्खन सिंह, जिप्पी शोरेवाला, धर्मवीर कैमिस्ट, ईश्वर गर्ग धनौरी, मनोज बंसल, पार्षद आशा रानी, रामफल मोर, कुवि छात्र नेता प्रियव्रत पाराशर, पार्षद विक्की शर्मा, अधिवक्ता शशी वालिया, अधिवक्ता धर्मवीर भोला, जिला संगठन सचिव हरदीप पाडला, पं. कंवरपाल करोड़ा, रणदीप कौल, चंद्रभान दयौरा, रणधीर बाता, राजा राम माजरा, संजय जागलान, सरपंच बलजिंद्र मुल्तानी, रामफल मलिक खुराना, विजय अरोड़ा, पंडित अनिल तिवारी, बार एसोसिएशन के सचिव जे.पी. जागलान, अधिवक्ता शमशेर कालारमणा, देवेंद्र कुलतारन, महेश मंगल, अधिवक्ता सांकेत मंगल, लालचंद जांगड़ा, संजीव छौत सरपंच, वरिष्ठ अग्रवाल नेता मांगे राम कैलरम, युवा जिलाध्यक्ष बलराज नौच, हरिकिशन सैनी, पूर्व एच.सी.एस. मांगे राम ढुल, जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष पं. रणवीर, अनिल तंवर, महाबीर पट्टी अफगान, गुलाब छौत, रामदिया चावरिया, दीक्षित गर्ग, बलबीर प्रिंसीपल, सुभाष बुढ़ाखेड़ा, युवा नेता जसमेर तितरम, संदीप ढांडा, ऋषि राज राणा, हलका प्रधान रोशन सिरटा, बिल्लू चंदाना, बिन्नी कालड़ा, सतीश राणा कलायत, ओमप्रकाश सरपंच खुराना,पतासो देवी बाबालदाना, हलका शहरी प्रधान मनजीत डोरा, जोगेंद्र कसान, अधिवक्ता पवन ढुल, कृष्ण शेरगढ़, अशोक भारती, जसमेर ढांडा, अभिजीत जोशी, लाला टेकचंद सजूमा, डा. कश्मीरी लाल,अधिवक्ता विनीत गोयल, सुरेश मलिक खुराना, मेजर सूबेदार पारस नाथ क्योड़क, अधिवक्ता जोमिंद्रसिंह पन्नू, वेदप्रकाश ढुल, कृष्ण चीकू,भूपसिंह वाल्मीकि, स. जरनैलसिंह, सुरजीत पबनावा, नरेंद्र घराड़सी, महेंद्र शर्मा सरपंच खेड़ी, सुल्तानसिंह मुन्नारेहड़ी, रामप्रकाश गोगी, सतपाल मलिक हजवाना, लीलू पाई, राजेश टाया सहित हजारों की संख्या में लोग उपस्थित थे।

रिपोर्ट :- राजकुमार अग्रवाल