kejriwal-prashant-bhushan-yogendra-yadav नई दिल्ली – आपसी झगड़ों से जूझ रही आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद (एनसी) शुरू होने वाली है। इससे पहले पार्टी की फजीहत करने वाले घटनाक्रम सामने आ रहे हैं। योगेंद्र यादव काफी देर से बाहर खड़े हैं। उनका आरोप है कि उनके समर्थकों को अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। वहीं बाहर खड़े कई पार्टी कार्यकर्ताओं के हाथ में पोस्टर हैं जिन पर ‘गद्दारों को बाहर करो’ के नारे लिखे हैं।

माना जा रहा है कि इस बैठक में बागी योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण को पार्टी से बाहर करने पर फैसला हो सकता है। खबर यह भी है कि ऐसा होता है तो दोनों अपनी अलग पार्टी बना लेंगे।

कुमार विश्वास राष्ट्रीय परिषद की अध्यक्षता करेंगे। बैठक की वीडियो रिकॉर्डिंग की जाएगी। इसकी मांग प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने की थी।

अरविंद केजरीवाल एनसी को संबोधित करेंगे। योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण से विवाद सामने आने के बाद यह पहला मौका है जब तीन नेता आमने-सामने बैठे होंगे।

इससे पहले राष्ट्रीय परिषद स्थल के बाहर परिषद सदस्यों की लंबी लाइन लगी रही। दरअसल, सभी सदस्यों को पार्टी की ओर से मोबाइल संदेश भेजा गया था। मोबाइल पर वह संदेश दिखाए जाने के बाद ही प्रवेश दिया गया। जिन सदस्यों से वह संदेश डिलिट हो गया है, उन्हें प्रवेश नहीं दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here