File-Photo
File-Photo

नासिक- मंदिरों में महिला अधिकारों की मांग को लेकर लड़ाई लड़ने वाली सामाजिक कार्यकर्ता तृप्ति देसाई सोमवार को नासिक के त्र्यम्बकेश्वर मंदिर तक मार्च के लिए निकल गई है। देसाई ने बताया कि करीब 150-200 महिलाअों के साथ मंदिर तक जाऊंगी। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि हमें हिरासत में नहीं लिया जाएगा, क्योंकि हमें सीएम फडणवीस और पुलिस का समर्थन प्राप्त है। इससे पहले तृप्ति महाराष्ट्र के अहमदनगर स्थित शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर आंदोलन कर चुकी हैं।

खबर अनुसार भूमाता ब्रिगेड के सदस्य त्र्यंबकेश्वर मंदिर की तरफ कूच करने के लिए जुटना शुरू हो गए हैं। भूमाता ब्रिगेड की महिलाओं का कहना है वो जबरन मंदिर में प्रवेश करने वाली हैं, और इन्हीं हालातों को देखते हुए मंदिर के आसपास पुलिस का पुख्ता बंदोबस्त किया गया है।

भूमाता ब्रिगेड की तृप्ति देसाई ने कहा कि पूना से 150-से 200 महिलाएं निकली हैं। ये परंपरा महिलाओं के लिए क्यों है, ये महिलाओं के हक की लड़ाई है। हम गर्भगृह में जाएंगे। मेरी सीएम से बात हुई, अगर पुलिस रोकती है तो महिलाओं का अपमान होगा।

वहीं सनातन संस्था, हिंदू जनजागृति संस्थान सहित कुछ और हिंदूवादी संगठन मंदिर ट्रस्ट के बचाव में आगे आए हैं। इन संगठनों की महिला कार्यकर्ता भूमाता ब्रिगेड को रोकेंगी। इन संगठनों की महिलाओं का कहना है कि तृप्ति देसाई ड्रामा कर रही हैं, धर्म के साथ खिलवाड़ कर रही हैं। हम तृप्ति को मंदिर के अंदर घुसने नहीं देगें। इस गांव की महिलाएं भी हमारे साथ हैं, सब मिलकर उनको रोकेंगे। वह परंपरा के नाम पर पब्लिसिटी चाहती हैं।