नई दिल्ली : भारत-पाकिस्तान के बीच जारी तनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये ‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’ कार्यक्रम के अंतर्गत पार्टी कार्यकर्ताओं, के बात करेंगे। इस स्थिति में पीएम द्वारा इस कार्यक्रम को करने को लेकर विपक्ष ने सवाल उठाया है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को देश की स्थिति को देखते हुए अपने कार्यक्रम को फिलहाल स्थगित करने की अपील की।

अरविंद केजरीवाल ने कहा, ”मैं पीएम से आग्रह करता हूं कि इसे स्थगित करें। इस समय हमें एक राष्ट्र के रूप में भारतीय वायुसेना के पायलट को सुरक्षित वापस लाने के लिए अपनी सभी ऊर्जा और समय खर्च करने की आवश्यकता है और पाक से निपटने की जरूरत है।”

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने पीएम मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ”गलत प्राथमिकताओं का भयावह मामला! 132 करोड़ भारतीय भारत के बहादुर अभिनंदन की सुरक्षित और तत्काल वापसी के लिए प्रार्थना कर रहा है। लेकिन मोदीजी केवल चुनाव के लिए बेताब हैं। कांग्रेस ने अपना सीडब्ल्यूसी बैठक और रैली आज रद्द कर दिया है।”

बीएसपी प्रमुख मायावती ने भी पीएम के इस कार्यक्रम सवाल उठाया। उन्होंने ट्वीट किया, ”ऐसे समय में जब जंगी संकट के बादल छाये हैं व देश को नेतृत्व की सख़्त ज़रूरत है वैसे में पीएम श्री मोदी द्वारा देश की सुरक्षा पर ध्यान केन्द्रित करने के बजाय अपनी पार्टी की चिन्ता करते हुये बीजेपी वर्करों को सम्बोधित करना हास्यास्पद ही नहीं बल्कि देश की भावनाओं के साथ खिलवाड़ भी है।”

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पीएम मोदी के ऐसे वक्त में ‘चुनाव प्रचार’ करने पर सवाल उठाया।

उन्होंने लिखा, ” जब हम सर्व दल बैठक कर रहे थे तो वो प्रचार कर रहे थे। जब सैनिक बमबारी का सामना कर रहे थे तो वो एप का उद्घाटन कर रहे थे। जब पता चला कि हमारा पाइलट लापता है तो वो खेल कर रहे थे। देश की माँग है: सब संकीर्ण राजनीति छोड़ें, मीडिया संयम बनाए रखे और हमारे जाँबाज़ पाइलट को वापस लाएं।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये ‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’ कार्यक्रम के अंतर्गत पार्टी कार्यकर्ताओं, शुभचिंतकों, स्वयंसेवकों एवं विशिष्ट नागरिकों से संवाद करेंगे। पार्टी ने जोर दिया है कि इसके तहत प्रधानमंत्री देश के लगभग एक करोड़ लोगों से जुड़ेंगे।