Home > Editorial > विपक्ष का दावा: 13 दिन वाली सरकार जैसा होगा बीजेपी का अंजाम

विपक्ष का दावा: 13 दिन वाली सरकार जैसा होगा बीजेपी का अंजाम

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान राजनीतिक दलों की तरफ से सरकार बनाने को लेकर तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं। एक तरफ, एनडीए दोबारा सत्ता में वापसी के दावे कर रहा है तो दूसरी तरफ विपक्ष का दावा है कि बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन को लोकसभा चुनावों में हार का सामना करना पड़ेगा। इस बीच एनसीपी प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने सरकार बनाने के एनडीए के दावे पर बड़ा बयान दिया है।

शरद पवार ने कहा कि 23 मई को चुनाव परिणाम आने के बाद बीजेपी ने अगर सरकार बनाने की कोशिश की तो, उसका हश्र 13 दिनों की अटल बिहारी वाजपेयी सरकार की तरह होगा। शरद पवार ने कहा कि उनको नहीं लगता है कि सरकार बनाने का न्योता मिलता है तो एनडीए बहुमत साबित कर पाएगा। ये बात उन्होंने एक मराठी टीवी चैनल से बात करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों के नेता मतगणना से एक या दो दिन पहले दिल्ली पहुंचेंगे और केंद्र में एक स्थिर सरकार बनाने पर चर्चा करेंगे। बता दें कि 1996 के आम चुनावों में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरकर आई थी। 16 मई, 1996 को अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली, लेकिन केवल 13 दिन बाद ही उनको इस्तीफा देना पड़ा था जब वे सदन के पटल पर बहुमत साबित नहीं कर पाए थे।

पवार ने कहा कि इस बार भाजपा लोकसभा में बहुमत साबित नहीं कर पाएगी, अगर राष्ट्रपति सरकार बनाने के लिए उनको आमंत्रित करते हैं। पवार ने कहा, ‘राष्ट्रपति उनको बहुमत साबित करने के लिए 10 दिन, 15 दिन या फिर तीन हफ्ते का वक्त देंगे। लेकिन मुझे नहीं लगता कि बीजेपी बहुमत साबित कर पाएगी। जैसे अटल बिहारी वाजपेयी 13 दिनों के लिए पीएम बने थे, वैसे ही अबकी भी 13 दिन या 15 दिन वाली सरकार देखने को मिल सकती है।’ पवार ने कहा कि विपक्षी दलों ने इस चुनाव में प्रधानमंत्री पद के लिए किसी चेहरे को प्रोजेक्ट नहीं किया और अलग-अलग चुनाव लड़ा, जैसा 2004 में किया था।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com