Article 370 हटने के विरोध में POK में LOC तक मार्च व प्रदर्शन

Demo-Pic

नई दिल्लीः जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटे 60 दिन हो चुके हैं मगर पाकिस्तान लगातार इस मुद्दे पर अपनी खिसियाहट सीमा और अंतर्राष्ट्रीय पटल पर निकाल रहा है। पाकिस्तान की ओर से इस साल जहां 2000 से अधिक बार सीजफायर उल्लंघन किया गया है वहीं लगातार भारतीय सीमा में घुसपैठ के लिए आतंकी एलओसी पर फिराक में बैठे हैं। एक बार फिर शुक्रवार को अनुच्छेद 370 को लेकर प्रदर्शन के लिए लोगों को तैयार कर रहा है। इस बार पाकिस्तान एलओसी तक कश्मीरी लोगों से मार्च करने की अपील की है।

सैन्य सूत्रों की माने तो चार अक्तूबर को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में लोगों से पाक सेना ने एलओसी तक मार्च निकालने को कहा है। इस प्रदर्शन में करीब लाखों लोगों को पाकिस्तान ने पीओके से सटे बॉर्डर इलाकों में ठहराया हुआ है। शुक्रवार को पाक पीएम इमरान खान पीओके के स्कार्दू में पूरा दिन गुजारने वाले हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि यहां वो जनसभा को संबोधित भी कर सकते हैं। भारतीय सेना के शीर्ष सूत्रों के हवाले से पता चला है कि एलओसी पर स्थानीय लोग भी कुछ गड़बड़ी पैदा कर सकते हैं जिसके लिए भारतीय सेना पूरी तरह से तैयार हो चुकी है।

बता दें कि अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद से पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस मुद्दे को उठा रहा है, लेकिन हर जगह से उसके हाथ असफलता लग रही है। इसके साथ पाकिस्तान सीमा पर भारत में अशांति पैदा करने के लिए घुसपैठ कराने की कोशिश में लगा हुआ है। लेकिन यहां भी भारत के सुरक्षाबल पटखनी दे रही हैं।

वहीं, मोदी सरकार अनुच्छेद 370 खत्म करने के बाद से घाटी के युवा विकास की मुख्य-धारा में आएं इसे लेकर नई-नई योजनाएं शुरू की जा रही है। सरकार ने रोजगार देने पर भी विशेष जोर देना शुरू कर दिया। गुरुवार को ही कश्मीर में बड़ी संख्या में सेना भर्ती रैली में युवाओं ने भाग लेकर आतंकियों और अलगाववादियों के मुंह पर तमाचा मारा है।