DEMO PIC
DEMO PIC

जहां भारत सहित विश्व के अधिकतम देशों में ज्यादा से ज्यादा लोगों तक इंटरनेट पहुंच चुका है, वहीं पाकिस्तान में आज भी केवल 8 प्रतिशत लोगों को ही इंटरनेट सुविधा नसीब हो पाई है। यह बात पीईडब्ल्यू रिसर्च सेंटर की ओर से किए गए एक सर्वे में सामने आया है कि पाकिस्तान में केवल 8 फीसदी लोग ही इंटरनेट का इस्तेमाल कर पा रहे हैं। इस खामी के चलते वहां सामाजिक, शैक्षिक और राजनीतिक माहौल में बदलाव नहीं आ पा रहा है।

इस सर्वे के मुताबिक पाकिस्तान से बेहतर स्थिति बांगलादेश (11 प्रतिशत), युगांडा (15 प्रतिशत) और भारत (20 प्रतिशत) है, हालांकि पाकिस्तान में 12 फीसदी लोगों के घर में कंप्यूटर है। इस मामले में भारत (11 प्रतिशत), नाइजीरिया (11 प्रतिशत) और बांग्लादेश (8 प्रतिशत) पाकिस्तान से पीछे हैं। पाकिस्तान टेलिकॉम अथॉरिटी के मुताबिक देश में सवा करोड़ ब्रॉडबैंड कनेक्शन हैं।

वहीं उद्योग और शिक्षा के क्षेत्र में महिलाओं का हाल बुरा है। वहां की सबसे सफल मनी मैनेजर माहीन रहमान को भी अपनी मेहनत के बावजूद इज्जत नहीं मिल सकी है। उन्होंन घाटे में चल रही असेट म ैनेजमेंट कंपनी को मुनाफे में ला दिया था, लेकिन वे महिलाओं के प्रति वहां लोगों की सोच में बदलाव नहीं ला सकीं। रहमान 180 मिलियन डॉलर के स्टॉक्स और बॉन्ड वाली कराची की कंपनी अलफला जीए चपी इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट लिमिटेड की सीईओ हैं और अपनी ही कंपनी में माइनॉरिटी में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here