ड्रग्स तस्कर के शव लेने से पाक का इंकार - Tez News
Home > India News > ड्रग्स तस्कर के शव लेने से पाक का इंकार

ड्रग्स तस्कर के शव लेने से पाक का इंकार

bsfफाजिल्का- पिछले दिनों दो पाकिस्तानी ड्रग्स तस्कर को मार गिराया गया था जिनके भारत ने पाकिस्तान को पाक नागरिक होने के पुख्ता सबूत दिए गए थे लेकिन पाकिस्तान ने किया साफ़ इनकार कर दिया और बोले हमारे देश के नहीं है बाशिंदे ! बी एस एफ की गोली का शिकार हुए थे दो पाक तस्कर एक है जिन्दा हिरासत में है !

बता दें कि 11 जून को तडके पंजाब के जिला फाजिल्का से सटे अंतर्राष्ट्रीय भारत-पाक सीमा पर भारत की सीमा में दाखिल हुए तीन तस्करों पर बी एस एफ के जवानों द्वारा दागी गई गोलियां का शिकार हुए तीन में से दो की मौके पर ही मौत हो गयी थी जबकि एक को घायल हालत में बी एस एफ ने अपनी हिरासत में ले लिया था ! इनके पास से भारी मात्रा में हथियार सहित 15 किलो हिरोइन भी बरामद की गयी थी , घायल रमजान पुत्र नवाज अली ने प्रारंभिक पुछ-ताछ दौरान अपने आप को गांव शेख सार थाना खुडिया जिला कसूर पाकिस्तान का वासी बताते हुए मारे गए अपने दोनों साथियों को भी पाकिस्तान का वासी बताया था , मृतक दोनों पाकिस्तानी तस्करों सबंधी कागजी कारवाई पूरी करने के बाद बी एस एफ ने शवो को उनके परिवारजनों तक पहुँचाने के लिए पाक रेंजर्स को उनके सबंधी तथ्य और बाकी चीजे दे कर शवो को लेने को कहा लेकिन पाक रेंजर्स ने बी एस एफ को मृतकों का पाक नागरिक होने से साफ़ इनकार कर दिया है , जबकि इनका एक साथी रमजान आज भी पंजाब पुलिस की गिरफ्त में है !

बी एस एफ के डी आई जी केपन पीवी ने बताया कि घटना वाले दिन के बाद दुसरे दिन बी एस एफ ने पाक रेंजर्स के साथ मीटिंग करके उन्हें घटना बारे जानकारी दी और इस दौरान मारे गए दोनों पाक तस्करों का पाकिस्तानी होने सबंधी जरुरी तथ्य भी दिए और शवो को लेने को कहा लेकिन पाक रेंजर्स ने उन्हें अगले दिन का समय दिया , दुसरे दिन भी मीटिंग हुई तो पाक रेंजर्स ने ना केवल शव लेने से ही इनकार कर दिया बल्कि उनके मुल्क के बाशिंदे नहीं होने का स्पष्ट जवाब दिया !

डी आई जी ने कहा कि इसके बाद मानवता और आपसी देशो की संधि मुताबिक उन्होंने पाकिस्तान को मृतको की तस्वीरे , माता पिता का नाम , गांव का नाम , यहाँ तक की जिन्दा पकडे गए पाक तस्कर और इनके साथी की वीडियो क्लिप जिसमे वह अपने सहित दोनों मृतकों को पकिस्तान का बाशिंदे होने के बारे में बता रहा है आदि जैसे और सबूत पकिस्तान को दिए लेकिन इसके बावजूद भी पकिस्तान ने उन्हें अपने देश का होने से इनकार कर दिया , इसके बाद पुलिस ने मृतकों के रीती रिवाज अनुसार उन्हें दफना दिया गया है !

डी आई जी ने कहा कि सीमा पर कुछ पाकिस्तानी महिलायों बच्चो को भी रोते बिलखते देखा गया है जो इस बात को और वजन देता है कि घटना में मारे गए और हिरासत में रमजान पकिस्तान के वासी ही है पर पाकिस्तान हर बार की तरह इस मामले में भी अपने देश के नागरिको होने पर साफ़ इनकार कर रहा है !
रिपोर्ट- @इन्द्रजीत सिंह

loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com