pappu yadav

पटना– हाल ही में राजद से छह साल के लिए निष्‍कासित किए गए सांसद पप्पू यादव ने रविवार को अपनी नई पार्टी का ऐलान कर दिया है। जानकार सूत्रों से मिल रही खबर के मुताबिक पप्पू की नई पार्टी का नाम जन अधिकार मोर्चा होगा। वहीं बिहार में सितंबर- अक्टूबर में विधानसभा चुनाव हो सकते है।

राजीव रंजन यादव उर्फ पप्पू यादव ने बीते कई महीनों से पार्टी लाइन के खिलाफ मोर्चा खोल रखा था। जब बिहार नतीश कुमार ने दोबारा सीएम पद की शपथ ली तो आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव ने नीतीश के समर्थन का एलान किया, लेकिन पप्पू यादव ने जीतनराम मांझी गुट का खुलकर समर्थन किया था। इस दौरान पप्पू यादव पर विधायकों के खरीद फरोख्त के भी आरोप लगे।

पप्पू यादव ने कहा कि वह ‘जात’ की नहीं, ‘जमात’ की राजनीति करते हैं। पप्पू हाल ही में राजद से छह साल के लिए निकाले जा चुके हैं। उन्होंने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अब सामाजिक न्याय के नाम पर ‘पारिवारिक न्याय’ से काम नहीं चलेगा, वास्तविक सामाजिक न्याय की बात करनी होगी।

पप्पू ने कहां लालू प्रसाद अपने आलोचकों और स्वाभिमान वाले व्यक्तियों को अपने साथ कभी नहीं रख सकते। उन्हें केवल चाटुकारों और माफियाओं से प्रेम है। बिहार विधानसभा चुनाव में जनता उन्‍हें सबक सिखाएगी।

बिहार के सीमांचल इलाके में पप्पू यादव की खासा पकड़ है। खुद मधेपुरा से सांसद हैं तो उनकी पत्नी कांग्रेस पार्टी से सुपौल से सांसद हैं। मधेपुरा और सुपौल के अलावा पप्पू यादव का अररिया, सहरसा, पुर्णिया और कटिहार में खासा प्रभाव है। अगर इन इलाकों में उनकी पार्टी चुनाव लड़ती है तो आरजेडी और नीतीश की पार्टी का खेल खराब हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here