6 दिसंबर को राम मंदिर निर्माण का ऐलान न हुआ तो कर लूँगा आत्मदाह – परमहंस

0
29


भदोही : भदोही के प्रमुख धार्मिक स्थल सीता समाहित स्थल सीतामढ़ी में छावनी के महंत परमहंस महाराज ने शनिवार को कहा है कि अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण की घोषणा 6 दिसंबर को नहीं हुई तो वह सीतामढ़ी की मिट्टी का लेप लगाने के बाद चिता पर बैठकर आत्मदाह कर लेंगे।

संत ने आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी की राजनीति और आरएसएस एवं वीएचपी की कूटनीति की वजह से अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण नहीं हो रहा है।

सीतामढ़ी में आयोजित धिक्कार सभा के आयोजन के दौरान वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर जमकर बरसे।

मुख्यमंत्री के हनुमानजी को दलित कहने वाले बयान पर उन्होंने कहा कि किसी देवता को जाति के दायरे में बांधना गलत है और योगी को इस पर क्षमा मांगनी चाहिए।

अयोध्या में छह दिसंबर को मंदिर निर्माण के लिए आत्मदाह करने का ऐलान भी वह कर चुके हैं।

महंत बड़े सरकार स्वामी परमहंसजी महाराज 23 नवंबर को कार्तिक पूर्णिमा पर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए चिता पूजन भी कर चुके हैं।

सीतामढ़ी स्थित वाल्मीकि आश्रम में आयोजित धिक्कार सभा में उन्होंने कहा कि भगवान श्रीराम की सहधर्मिणी आदिशक्ति माता सीता की समाहित स्थली की पवित्र मिट्टी को माथे पर लगा कर आत्मदाह करेंगे।

इसके लिए वह यहां से मिट्टी लेने आए हैं। इस दौरान उन्होंने गंगा पूजन भी किया और घंटा बजाकर ऐलान किया कि रविवार सुबह वह सीता समाहित स्थल सीतामढ़ी में मिट्टी को संकलित करेंगे और उसी मिट्टी को लगाकर 6 दिसंबर को मंदिर निर्माण की घोषणा न होने पर आत्मदाह करेंगे।

कार्यक्रम की अध्यक्षता वाल्मीकि आश्रम के महंत हरि प्रसाद मिश्र ने की और संचालन समाजसेवी राहुल दुबे ने किया।