Home > Business > पेट्रोल-डीजल की कीमतों में फिर लगी आग, 81.80 रुपए पर पहुंचा भाव

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में फिर लगी आग, 81.80 रुपए पर पहुंचा भाव

नई दिल्ली : देश में डीजल के दाम अपने सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गए हैं। मंगलवार को क्रूड ऑयल की लगातर बढ़ रही कीमतों के चलते देश में डीजल-पेट्रोल के दाम अब तक के सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गए। यह लगातार छठा दिन है जब डीजल- पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है। आपको बता दें कि तेल मार्केटिंग कंपनियां रोजना सुबह 6 बजे विदेशी मुद्रा दरों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमतें क्या हैं, इस आधार पर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव करती हैं। दिल्ली में पेट्रोल के दाम चार साल के सबसे उच्च स्तर पर हैं, जबकि डीजल के दाम भी नई उंचाई पर पहुंच गए हैं।

आज दिल्ली में पेट्रोल 73.95 रुपए है जो कल के मुकाबले 12 पैसे ज्यादा है। तो वही डीजल 64.82 रुपए है जो कल के मुकाबले 13 पैसे ज्यादा है। सोमवार को पेट्रोल 73.83 रुपए प्रति लीटर और डीजल 64.69 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से बिक रहा था। पेट्रोल इससे पहले सितंबर 2013 में इस स्तर पहुंचा था। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक सितंबर में पेट्रोल में 76 रुपए के स्तर पर पहुंचा था। भारत के अन्य शहरों की बात करें तो आज कोलकात में पेट्रोल 76.66 रुपए, मुंबई में 81.80 रुपए और चेन्नई में 76.72 रुपए बिक रहा हैं।

वहीं दूसरी ओर डीजल के दाम रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए हैं। मंगलवार को दिल्ली में डीजल 64.82 रुपए प्रति लीटर, कोलकाता में 67.51 रुपए, मुंबई में 68.38 रुपए और चेन्नई में 68.38 रुपए बिक रहा है। कच्चे तेल के दाम रुपए डॉलर के एक्सचेंज रेट के आधार पर तय किए जाते है। वहीं घरेलू डीजल और पेट्रोल के रेट राज्य और केंद्र के सरकारी टैक्स के आधार पर तय होते हैं। बीते साल जून में जहां ब्रेंट क्रूड के न्यूनतम स्तर 44 डॉलर प्रति बैरल से बढ़कर मौजूदा समय में लगभग 70 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गया है। बीते कुछ महीनों के दौरान ग्लोबल मार्केट में क्रूड ऑयल की कीमतों में हो रही लगातार बढ़त से एशियाई और खासतौर पर भारत में महंगाई बढ़ सकती है

जून 2017 से पहले तक पहले तेल की कीमतें हर 15 दिनों पर तय होती थीं। ये हर महीने की पहली और 16 वीं तारीख को होता था। उससे पहले हर तीसरे महीने तेल की कीमतें निर्धारित की जाती थीं। 18 अक्टूबर 2014 को तेल तय करने का काम सरकार द्वारा महीने में एक बार होने लगा था। पिछले साल 16 जून 2017 से देशभर में सभी पेट्रोल पंपों पर तेल की कीमतें रोज ही तय होती हैं। बीते साल जून में जहां ब्रेंट क्रूड के न्यूनतम स्तर 44 डॉलर प्रति बैरल से बढ़कर मौजूदा समय में लगभग 70 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गया है। बीते कुछ महीनों के दौरान ग्लोबल मार्केट में क्रूड ऑयल की कीमतों में हो रही लगातार बढ़त से एशियाई और खासतौर पर भारत में महंगाई बढ़ सकती है।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com