Embracing Islam will be real home coming - Asaduddin Owaisiनई दिल्ली – ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के नेता असदुद्दीन ओवैसी का कहना है कि मैं भारत माता की जय नहीं बोलूंगा। बकौल ओवौसी, अगर कोई मेरी गर्दन पर छुरी रखकर भी भारत माता की जय बुलवाएगा तो भी मैं नहीं बोलूंगा। ओवैसी के इस बयान के बाद देशभर से सख्त प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।

वहीं इलाहाबाद में आईपीसी की धारा 124ए के तहत केस दर्ज हुआ है। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए ओवैसी ने कहा कि मुझे कोर्ट पर पूरा भरोसा है। कोर्ट इंसाफ करेगा। जय हिंद।

ज्ञात हो कि ओवैसी ने सभा में कहा था कि मैं भारत में रहूंगा पर भारत माता की जय नहीं बोलूंगा. क्योंकि यह हमारे संविधान में कहीं नहीं लिखा है कि भारत माता की जय बोलना जरूरी है !चाहे तो मेरे गर्दन पर चाकू लगा दीजिए, पर भारत माता की जय नहीं बोलूंगा. इसकी आजादी मुझे मेरा संविधान देता है!
आपको बता दें कि कुछ दिन पहले आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा था कि देश में लोगों को भारत माता की जय बोलना सिखाया जाता है ! उसी के विरोध में ओवैसी ने बात कही !

[box type=”shadow” align=”alignright” width=”12″ ]ओवैसी को ऐसे बयान पर शर्म आनी चाहिए। भारत हमारी मातृभूमि है और सभी को इसकी पूजा करनी चाहिए। हालांकि यह कहीं लिखा नहीं है न ऐसा कोई कानून है फिर भी हर नागरिक का कर्तव्य है कि वह मातृभूमि की पूजा करे। – वेंकैया नायडू, केंद्रीय मंत्री[/box]

[box type=”warning” align=”alignleft” width=”12″ ]ये बहुत गंभीर बात है। ओवैसी पाकिस्तान चला जाए। उन्हें भारत में रहने का अधि‍कार नहीं। मैं मुख्यमंत्री (देवेद्र फडणवीस) से कहूंगा कि इस बयान की वो जांच कराएं। ओवैसी पर सरकार कार्रवाई करे। इस हरे सांप को दूध नहीं पिलाना चाहिए। – रामदास कदम, महाराष्ट्र सरकार में पर्यावरण मंत्री और शिवसेना नेता[/box]

[box type=”warning” align=”alignright” width=”10″ ]हम यही दुआ करेंगे कि अल्लाह ताला ओवैसी को सदबुद्धि दें। स्थानीय प्रशासन ओवैसी के बयान की जांच करेगीा। अभिव्यक्ति की आजादी को आधार बनाकर कोई भी बयान नहीं दिया जा सकता है। – सुधीर मुंगटीवार, महाराष्ट्र सरकार में मंत्री[/box]

[box type=”note” align=”alignleft” width=”8″ ]भारत में रहकर भारत माता की जय नहीं बोलने वाले धरती पर बोझ हैं। ऐसे लोगों को देश छोड़कर चला जाना चाहिए। – कैलाश विजयवर्गीय, भाजपा महासचिव[/box]