मोदी ने जम्‍मू-कश्‍मीर को दिया 80 हजार करोड़ का पैकेज

narendra modi demo pic
जम्‍मू- जम्मू-कश्मीर दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज श्रीनगर रैली में राज्‍य के लिए 80,000 हजार करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की। पैकेज का ऐलान करते हुए पीएम ने कहा कि 80 हजार करोड़ के पैकेज से कश्मीर का भाग्य बदलेगा। ये तो बस शुरुआत है।

दिल्‍ली का खजाना आपके लिए है और ये दिल भी आपके लिए है। इस दौरान प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि कश्‍मीर के लिए मुझे किसी की सलाह की जरूरत नहीं है। अटल जी ने हमें तीन मंत्र दिए थे, कश्‍मीरियत, जम्‍हूरियत, इंसानियत। कश्‍मीर के विकास के रास्‍ता इन तीन स्‍तंभों पर खड़ा है। हमें अटल जी के नक्‍शे-कदम पर चलना है।

शेर-ए-कश्‍मीर स्‍टेडियम में रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने आगे कहा, सबका साथ सबका विकास मेरे शासन का मंत्र है। कश्‍मीर अनेक संकटों से गुजरा है। हमें हिंदुस्तान के जन-जन के विकास का सपना पूरा करना है। आपका प्यार मेरा हौंसला बनाए रखता है। अगर हिंदुस्तान का कोई कोना विकास से वंचित रहे तो मेरा सपना पूरा नहीं होता है। ये संस्कार की ताकत है जो मुझे आपके दुख-दर्द को बांटने का प्रेरणा और ताकत देती है।

पीएम ने रैली में लोगों से कहा, विश्‍व में तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्‍यवस्‍था में आज भारत ने अपना नाम दर्ज करा दिया है। आज भारत के आर्थिक विकास की चर्चा होती है तो चीन के साथ तुलना होती है। भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है। मैं केवल सपने नहीं देखता बल्कि जन-जन का साथ लेकर आगे बढ़ने का प्रयास करता हूं। भ्रष्‍टाचार खत्‍म करने में भारत चीन से आगे निकला है।

इससे पहले पीएम ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि जम्‍मू-कश्‍मीर में बाढ़ आने पर मैं भी उसकी पीड़ा उतनी ही महसूस करता था, जितनी आप करते थे। इस दौरान चीन के राष्‍ट्रपति भी भारत दौरे पर आए थे, लेकिन मैंने उनके सामने जन्‍मदिन नहीं मनाया। कश्मीर की बाढ़ से मुझे पीड़ा हुई, इसलिए मैं श्रीनगर आया। संकटों के बाद भी उबरा जा सकता है।

पिछले 14 महीनों में प्रधानमंत्री का ये चौथा जम्मू दौरा है, जहां वह बगलिहार हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट के दूसरे चरण का उद्घाटन करेंगे। इसके अलावा वह जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाइवे-44 के उधमपुर-बनिहाल के हिस्से को चार लेन का बनाए जाने की आधारशीला रखेंगे। उधर, विरोध की आशंका के चलते श्रीनगर में मोबाइल इंटरनेट सुबह 10 बजे से दोपहर दो तक बंद रखी गई है।

श्रीनगर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के स्‍थल के पास काले गुब्‍बारे लेकर विरोध करने के चलते जम्‍मू-कश्‍मीर के निर्दलीय विधायक इंजीनियर राशिद को आज हिरासत में ले लिया गया। गौरतलब है कि शेख अब्दुल राशिद की बीफ पार्टी को लेकर जम्मू कश्मीर विधानसभा में भी हंगामा हुआ था और बीजेपी विधायकों ने उन्हें सदन में ही पीट डाला था। राशिद पर पिछले महीने ही दिल्‍ली में काली स्‍याही भी फेंकी गई थी।

पीएम की रैली के लिए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम और रामबन को किले में तब्दील कर दिया गया। पुलिस के साथ-साथ अद्धसैनिक बलों और एसपीजी के जवान सुरक्षा में तैनात किए गए। हालांकि पीएम की रैली में कोई दिक्कत न हो इसके लिए कई अलगाववादी नेताओं को हिरासत में ले लिया गया है।