Home > India News > PM मोदी ने किया अबू धाबी के पहले मंदिर का शिलान्यास, लगे नारे

PM मोदी ने किया अबू धाबी के पहले मंदिर का शिलान्यास, लगे नारे

नई दिल्लीः चार देशों के दौरे के तीसरे चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस वक्त यूएई में हैं। उन्होंने रविवार को दुबई ओपेरा हाउस में भारतीय समुदाय को संबोधित किया। अपने संबोधन से पहले पीएम मोदी ने अबू धाबी में पहले हिन्दू मंदिर बोचसानवसी श्री अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (बीएपीएस) की आधारशिला रखी और इस भव्य मंदिर के लिए 125 करोड़ भारतीयों की ओर से वली अहद शहजादा मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान को धन्यवाद दिया।

उन्होंने अबू धाबी के मंदिर की नींव का पत्थर दुबई ओपेरा हाउस से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये रखा। मंदिर का शिलान्यास करने के बाद जब मोदी ने ओपेरा हाउस में भारतीयों को संबोधित करना शुरू किया, उनके स्वागत में जोर-जोर से ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए गए। पूरा ओपेरा हाउस इन नारों की गूंज से गूंज उठा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गल्फ देशों को धन्यवाद देते हुए कहा कि यहां उन्हें घर जैसा माहौल दिया गया। उन्होंने कहा, ‘मैं गल्फ देशों को धन्यवाद कहना चाहता हूं कि यहां भी मुझे 30 लाख भारतीयों का साथ मिला, जिसकी वजह से मैं यहां भी अपने घर की तरह ही महसूस कर रहा हूं।’ पीएम मोदी ने कहा, ‘हम उस परंपरा में पले बढ़े हैं जहां मंदिर मानवता का माध्यम है। ये मंदिर आधुनिक तो होगा ही लेकिन विश्व को ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ का अनुभव कराने का माध्यम बनेगा।’

पीएम ने भारत की बढ़ती अर्थव्यवस्था और विकास के मुद्दे पर कहा, ‘भारत ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के वर्ल्ड बैंक की रैंकिंग में 142 से 100वें स्थान पर पहुंच गया है, जो कि बहुत अभूतपूर्व बात है, लेकिन हम इससे संतुष्ट नहीं हैं। हम और ज्यादा आगे बढ़ना चाहते हैं और इसके लिए हमें जो करना पड़े हम वो करने को तैयार हैं। मैं आपको विश्वास दिलाना चाहता हूं कि आप जो सपना देख रहे हैं उसे सच बनाने के लिए हम सब साथ में काम करेंगे।’

बता दें कि पीएम मोदी इस वक्त चार देशों के दौरे पर हैं और वह शनिवार की शाम यूएई पहुंचे। यहां उन्होंने अबूधाबी के शहजादे मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से मुलाकात कर अनेक विषयों पर बातचीत की और इस दौरान दोनों देशों के बीच पांच समझौतों पर हस्ताक्षर हुए।

इसमें इंडियन ऑयल के नेतृत्व वाले कंपनी समूह को अपतटीय तेल सुविधा में 10% हिस्सेदारी देने का समझौता भी शामिल है। प्रधानमंत्री तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में जॉर्डन से यहां पहुंचे। हवाई अड्डे पर अबूधाबी के शहजादे और शाही परिवार के अन्य सदस्यों ने उनकी अगवानी की। दोनों नेताओं ने एक दूसरे को गले लगाया।

मोदी ने हवाई अड्डे पर स्वागत के लिए शहजादे का शुक्रिया अदा किया और कहा कि उनकी यात्रा का भारत संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) संबंध पर सकारात्मक असर पड़ेगा।

वहीं यूएई सैन्य बल के उप शीर्ष कमांडर मोहम्मद बिन जायद ने ट्वीट किया, ‘‘हम अपने देश के अतिथि और मूल्यवान मित्र भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का यूएई में गर्मजोशी से स्वागत करते हैं।’’ मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद यूएई की उनकी यह दूसरी यात्रा है। मोदी अगस्त 2015 में पहली बार यूएई की यात्रा पर गए थे।

Facebook Comments
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com