Home > Election > आतंक के हथियार IED से ज्यादा ताकत वोटर आईडी में – पीएम मोदी

आतंक के हथियार IED से ज्यादा ताकत वोटर आईडी में – पीएम मोदी

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के लिए मंगलवार को मतदान हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपने मताधिकार का प्रयोग करते हुए गांधीनगर के रानिप पोलिंग बूथ पर अपना वोट डाला।

उन्होंने मतदाताओं से अपने मतदाधिकार का प्रयोग करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि आपका वोट बहुत कीमती है जो देश को आकार देगा।

खुली जीप में बैठकर प्रधानमंत्री पोलिंग बूथ पर पहुंचे। वोट डालने के बाद प्रधानमंत्री मोदी जब बाहर निकले तो लोगों ने उनसे बात की और इस दौरान मोदी-मोदी के नारे लगे।

इसके बाद उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आतंकवाद का अस्त्र आईईडी होता है ठीक उसी तरह लोकतंत्र का अस्त्र वोटर मतदाता पहचान पत्र (आईडी कार्ड) है।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘आज तीसरे चरण के लिए मतदान हो रहा है। मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे अपने गृह राज्य गुजरात में अपना कर्तव्य पूरा करने का मौका मिला। जिस तरह से कोई कुंभ में डुबकी लगाने के बाद खुद को पवित्र महसूस करता है। ठीक वैसे ही लोकतंत्र के त्योहार में मतदान करने के बाद वह पवित्र महसूस करता है।’

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, ‘आतंकवाद का हथियार आईईडी होता है, लोकतंत्र का हथियार वोटर आईडी कार्ड है। मैं यकीन के साथ कह सकता हूं कि वोटर आईडी कार्ड, आईईडी की तुलना में बहुत अधिक शक्तिशाली है। इसलिए हमें वोटर आईडी की शक्ति को समझना चाहिए। इसका इस्तेमाल करके मतदान करें।’

उन्होंने कहा कि देश का मतदाता नीर-क्षीर विवेक जानता है। पहली बार वोट डालने के लिए जाने वाले लोगों से प्रधानमंत्री ने 100 फीसदी मतदान करने की अपील करते हुए कहा कि यह पूरी सदी पहली बार मतदान करने वालों की है। भारत दुनिया के सामने लोकतंत्र के महात्मय का उदाहरण पेश करती है।

मतदान करने से पहले प्रधानमंत्री अपनी मां हीराबेन से मिलने के लिए उनके घर पहुंचे। उन्होंने पैर छूकर मां का आशीर्वाद लिया। मां ने उन्हें हलवा खिलाया और पावागढ़ी की माता की चुनरी भेंट की।

इसके अलावा उन्होंने बेटे को नारियल, 500 रुपये और मिश्री भी दी। मतदान से पहले उन्होंने भारत माता की जय कहा।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com