कर्जमाफी किसानों के साथ किया गया ‘सबसे क्रूर’ मजाक – पीएम मोदी

0
25

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कर्नाटक के बूथ वर्करों से ऑनलाइन संवाद के दौरान राज्य की कांग्रेस-जेडीएस सरकार पर निशाना साधा।

मोदी ने कहा कि कर्नाटक सरकार की कृषि कर्जमाफी किसानों के साथ किया गया ‘सबसे क्रूर’ मजाक है।

आपको बता दें कि हाल में मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली कर्नाटक सरकार ने माना था कि अभी तक कर्जमाफी का फायदा बहुत कम किसानों को मिल पाया है। सरकार के मुताबिक 44 हजार करोड़ रुपये की फसल कर्जमाफी का कुछ ही किसानों को लाभ मिला है।

पीएम मोदी ने कहा कि राज्य में जो लोग सत्ता में बैठे हैं, उनकी रुचि लोगों के कल्याण में नहीं है। ऐसे में हमारे कार्यकर्ताओं की ड्यूटी है कि वे लोगों की आवाज बनें।

पीएम ने बेलगावी, बीदर, दावनगेरे, धारवाड़ और हावेरी के बीजेपी बूथ वर्करों के साथ विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संवाद किया।

पीएम ने कहा कि लोगों ने बीजेपी के नजरिए में भरोसा व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि गरीब देखभाल चाहते हैं लेकिन सत्ता में बैठे लोग केवल कैबिनेट सीटों में व्यस्त हैं।

बीजेपी के ‘मेरा बूथ सबसे मजबूत’ कार्यक्रम के तहत पीएम ने पार्टी कार्यकर्ताओं के सवालों का जवाब दिया। उन्होंने आगे कहा, ‘कर्नाटक के लोग भ्रष्टाचारमुक्त विकास चाहते हैं लेकिन सत्ता पर आसीन लोगों की रुचि केवल विकासमुक्त भ्रष्टाचार में है।

मोदी ने कहा कि कर्नाटक का आम आदमी विकास चाहता है लेकिन उनका (राज्य सरकार) पूरा फोकस वंशवाद पर है। ऐसे में क्या हमारी पार्टी आम आदमी की आवाज बन सकती है?

पीएम ने कहा कि जब लोग वॉलनटिअर के तौर पर आते हैं तो उनका खुले दिल से स्वागत किया जाता है। अच्छे मकसद के लिए किसी ID कार्ड की जरूरत नहीं है। बीजेपी किसी परिवार के द्वारा नियंत्रित नहीं है, यह विकास के लिए समर्पित पार्टी है।

बीजेपी वर्करों से संवाद के दौरान पीएम मोदी ने कहा, ‘सत्ता में बैठे लोग सोचते हैं कि उन्होंने कैसे भी करके सरकार बना ली है, वे हर चीज से दूरी बना सकते हैं लेकिन कर्नाटक और भारत के लोग उन्हें और उनके कार्यों को देख रहे हैं। लोग उनके कुशासन के लिए जल्द ही सबक सिखाएंगे।’