Home > State > Delhi > मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार: ये हो सकता है फेरबदल !

मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार: ये हो सकता है फेरबदल !

Modi_AmitShah file pic नई दिल्‍ली– पीएम मोदी के अफ्रीका दौरे पर जाने से पहले मंगलवार को 11 बजे मंत्रिमंडल का विस्तार कर दिया जाएगा। इस बारे में राष्ट्रपति भवन को सूचित कर दिया गया है। कैबिनेट विस्तार में किसी बड़े फेरबदल की उम्मीद नहीं है। सिर्फ खाली जगहों को ही भरा जाएगा।

सूत्रों के मुताबिक, मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले संभावित चेहरों में पुरुषोत्तम रुपाला, रामदास अठावले, अनुप्रिया पटेल, अजय टम्टा, कृष्णा राज, एसएस अहलूवालिया, महेंद्रनाथ पांडे, अर्जुन राम मेघवाल,पीपी चौधरी का नाम शामिल है । ऊर्जा राज्य मंत्री पीयूष गोयल, पेट्रोलियम राज्य मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और अल्पसंख्यक मामलों के राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी को कैबिनेट मंत्री का ओहदा दिए जाने की अटकलें हैं।

कानून मंत्री सदानंद गौड़ा के साथ एक ताकतवर राज्यमंत्री को लगाया जा सकता है। अगले साल यूपी, उत्तराखंड और पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र इन राज्यों को कैबिनेट फेरबदल में तवज्जो दी जा सकती है।

इस बीच बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी अपनी टीम का पुनर्गठन करने जा रहे हैं। लंबे दौर की बातचीत के बाद दोनों ही बदलावों को संघ की हरी झंडी मिल गई है।

आइए जानें कल होने वाले मोदी कैबिनेट में आखिर क्‍या-क्‍या होने वाला है और कहां क्‍या दिखेगा इसका असर…..

1. अच्‍छा काम करने वालों का इस फेरबदल में प्रमोशन भी तय होना तय माना जा रहा है। इनमें पीयूष गोयल और धर्मेंद्र प्रधान शामिल हैं।

2. सूत्रों की मानें तो कैबिनेट में 75 प्‍लस के लोग नहीं रहेंगे। यदि ऐसा होता है तो नजमा हेपतुल्‍ला (76) और कलराज मिश्र (75) की विदाई हो सकती है।

3. मोदी के मई 2014 में सत्ता संभालने के बाद यह पहला बड़ा मंत्रिमंडलीय फेरबदल होने जा रहा है।

4. सूत्रों की मानें तो यूपी से अनुप्रिया पटेल, योगी आदित्‍यानाथ और राजस्‍थान के गवर्नर कल्‍याण सिंह के बेटे राजवीर सिंह भी मोदी कैबिनेट में एंट्री पा सकते हैं।
5. यूपी चुनावों में जातीय समीकरण साधने के लिए शाहजहांपुर के एमपी कृष्‍ण राज और मोहनलालगंज के एमपी कौशल किशोर की भी कैबिनेट में एंट्री हो सकती है।

6. अन्य संभावित नामों में पुरुषोत्तम रुपाला, रामदास अठावले, अजय टमटा, कृष्णराज, एसएस अहलूवालिया, महेंद्रनाथ पांडेय, अर्जुनराम मेघवाल, पीपी चौधरी और अनिल माधव दवे प्रमुख हैं।

7. उत्‍तर प्रदेश, उत्‍तराखंड और पंजाब में विधानसभा चुनाव होने हैं, जिसकी झलक कैबिनेट में मिल सकती है।

8. कैबिनेट में जो फेरबदल होगा, वो 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव तक के लिए होगा।

9. इस टीम के परफॉर्मेंस के जरिए ही 2019 में मोदी टीम अगला चुनाव जीतने का साहस बटोरेगी।

10. मानव संसाधन राज्य मंत्री रामशकंर कठेरिया और पंचायती राज, रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री निहालचंद को वापस संगठन में काम करने के लिए भेजा जा सकता है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com