Home > India > प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- गधे से प्रेरणा लेता हूं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- गधे से प्रेरणा लेता हूं

बहराइच : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहराइच में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हर सरकार की यह जिम्मेदारी होती है कि पांच साल के बाद वह अपने कामों का हिसाब दे और वह अपने कामों के पाई-पाई का हिसाब दे। यूपी के चुनाव का आधा चरण हो गया है, लेकिन मैं हैरान हूं कि यूपी सरकार का कोई भी मंत्री अपने काम का हिसाब नहीं दे रहा है, वो बिना संकोच और शर्म के बिना टीवी पर कहते हैं कि काम बोलता है।

पुराने जमाने में नगर सेठ रहा करते थे और उनके पास कार होती थी, जब वह कार से चलते थे तो लोग कहते थे कि इनकी कार का हॉर्न के अलावा सबकुछ बजता है, इनकी भी सरकार ऐसी है कि काम नहीं कारनामा बोलता है। यूपी में जब सड़क पर गाड़ी चलाते हैं तो काम नहीं गाड़ी का टायर बोलता है। अखिलेश ने कहा कि लोग हमें हराने के लिए एकजुट हो गए इसलिए हमने दिल बड़ा करके गठबंधन किया है, लेकिन आपने दिल बड़ा करके नहीं कड़ा करके गठबंधन किया है।

मोदी पर हमला करो समझ सकता हूं, भाजपा पर हमला करो समझ सकता हूं, लेकिन गधे पर हमला, वो तो सैकड़ों किलोमीटर दूर है, आप घबराते क्यों है। मैं हैरान हूं कि आपकी जातिवादी मानसिकता, उंच नीच का भाव देखने वाली मानसिकता, गधा आपको इतना बुरा लगने लगा। आपकी सरकार तो इतनी सक्षम है कि किसी की भैंस खो जाए तो पूरी सरकार खोजने में लग जाती है। आपको पता नहीं है कि गधा भी हमें प्रेरणा देता है, गधा मालिक के लिए वफादार होता है, कम से कम खर्चे वाला होता है। गधा कितना भी बीमार हो, कितना ही खाली पेट हो, कितना ही थका हो, लेकिन अगर मालिक उससे काम लेता है तो सहन करके उसे पूरा करने का काम करता है।

अखिलेश जी ये सवा सौ करोड़ देशवासी मेरे मालिक हैं, थक जाउं तो भी करता हूं, बिना छुट्टी लेकर करता हूं, क्योंकि गधे से प्रेरणा लेता हूं। गधा उसकी पीठ पर चीनी हो या चूना हो, गधा कभी भेद नहीं करता है। ये भेदभाव वो लोग करते हैं जो भ्रष्टाचार से डूबे होते हैं, जो टेबल पर पैसे का रंग देखकर काम करते हैं। जिन गधों पर आपको नफरत है, वही गुजरात है जिसने दयानंद सरस्वती को जन्म दिया था, महात्मा गांधी को जन्म दिया था, जिसने पटेल को जन्म दिया था, वही गुजरात है जहां भगवान कृष्ण ने वहां जाकर रहना पसंद किया था, अखिलेश जी यह देश हमारा है, हर कोना हमारा है, ऐसे में नफरता का भाव आपको शोभा नहीं देता है।

अखिलेश के ज्ञान को मैं क्या कहूं, लेकिन अच्छा होता आप उन्हें देखते जिनको आपने गले लगाया है, उनकी जब यूपीए की सरकार थी तो उस यूपीए सरकार ने इसी गधे का डाक टिकट निकाला था, वो गधा कितना होनहार होगा, कितना महत्वपूर्ण होगा यह अब आपको समझ आ गया होगा।

सपा सरकार पर हमला बोलते हुए पीएम ने कहा कि हमारा मकसद है विकास और जब हम विकास की बात करते हैं तो इसका मतलब किसान को सिंचाई मिले, बालकों को पढ़ाई मिले, युवकों को कमाई मिले, बुजुर्गों को दवाई मिले। उन्होंंने कहा कि जब हमारे यहां शुभ काम होते हैं तो गायत्री मंत्र जपा जाता है, लेकिन ये लोग गायत्री प्रजापति का जप करते हैं, जिसके खिलाफ रेप का मामला है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com