लोकसभा में बोले नरेंद्र मोदी- कांग्रेस नहीं चाहती कि सेना मजबूत हो

0
17

नई दिल्ली: गुरुवार को बजट सत्र के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में कहा कि ये सरकार आमजन के लिए काम करने वाली सरकार है और इसे लोगों की अपेक्षाओं का भी ध्यान है। इस सरकार की पहचान ईमानदारी के लिए है, पारदर्शिता के लिए है और भ्रष्टाचार पर लगाम कसने के लिए है। इस दौरान मोदी ने गठबंधन को निशाना बनाते हुए कहा कि ये महामिलावट है, लोग इसे पसंद नहीं करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब दे रहे हैं। इस सरकार का ये संसद का आखिरी सत्र है। नरेंद्र मोदी मौजूदा कार्यकाल का अपना आखिरा भाषण दे रहे हैं। इस सत्र के बाद देश में आम चुनाव होने हैं।

मोदी ने लोकसभा में कहा, वो मोदी की आलोचना करते हैं, भाजपा की आलोचना करते हैं लेकिन ये करते-करते वो देश की बुराई करने लग जाते हैं। विपक्ष के लोग कह रहे हैं कि मोदी संस्थाओं का सम्मान नहीं करते लेकिन कांग्रेस का इतिहास क्या है उसे नहीं देखते हैं। कांग्रेस ने कई बार चुनी हुई सरकारों को गिराने और संस्थाओं का अपमान करने का काम किया है। देश में आपातकाल थोपा कांग्रेस ने, लेकिन कहते हैं मोदी संस्थाओं को बर्बाद कर रहा है। सेनाध्यक्ष को गुंडा कांग्रेस ने कहा, और कहते हैं मोदी संस्थाओं को बर्बाद कर रहा है।

मोदी पर उंगली उठाने से पहले कांग्रेस को पता होना चाहिए कि जब वो मोदी पर उंगली उठाते हैं तो बाकी की चार उंगली उनकी तरफ होती है। मोदी ने इस दौरान विपक्ष से कहा कि मैं मर्यादा में रहूं, यही ठीक रहेगा। मोदी ने कहा, ‘खड़गे जी ने कहा कि मोदी जी जो बाहर बोलते हैं, वही राष्ट्रपति ने यहां कहा। इसका तात्पर्य है कि आप मानते हैं की आप बाहर कुछ और अंदर कुछ बोलते हैं और हम हमेशा सच बोलते हैं वो संसद हो या कोई जनसभा।’ जो कहते हैं कि ये अमीरों की सरकार है, तो मैं कहता हूं कि देश के गरीब ही मेरे अमीर हैं। गरीब ही मेरा इमान है, वही मेरी जिंदगी हैं, उन्ही के लिए जीता हूं, उन्हीं के लिए यहां आया हूं।’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, कांग्रेस सत्ता पर अपना हक मानती है। 55 साल पर मेरे 55 महीनों भारी हैं। साढ़े चार साल में 10 करोड़ से ज्यादा शौचालय बने हैं, देश के 10 करोड़ अमीरों के लिए मैंने शौचालय बनाए हैं, क्योंकि ये लोग कहते हैं कि मेरी सरकार अमीरों के लिए है। 55 महीने में हमने 13 करोड़ गैस कनेक्शन देिए है। 18 हजार गांवों में बिजली पहुंचने से आपको दिक्कत होती है, अब 100 करोड़ लोगों के पास बैंक खाते हैं. जो काम 20 साल में होना चाहिए था वो मुझे आकर पूरा करना पड़ा। मोदी ने कहा, कांग्रेस ने 2004, 2009 और 2014 में अपने मैनीफेस्टो में कहा कि तीन साल के अंदर हर घर में बिलजी पहुंचाएंगे। गरीब हटाओ की तरह हर घर में बिजली पहुंचाएंगे के वादे को भी कांग्रेस आगे बढ़ाती रही।

लोकसभा में नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब लूटने वालों के खिलाफ कानून आ गया है और लूटा हुआ धन में वापस लाने का काम चल रहा है। जो देश छोड़कर, देश का पैसा लूटकर भाग गए, वो अब ट्विटर पर रो रहे हैं कि मैं तो 9 हजार करोड़ रुपये लेकर निकला था, लेकिन मोदी जी ने मेरे 13 हजार करोड़ जब्त कर लिए। प्रधानमंत्री ने कहा, नरेंद्र मोदी ने कहा कि सेना के लिए कांग्रेस की सरकार में बुलेट प्रूफ जैकेट तक नहीं थी और सर्जिकल स्ट्राइक करे जाने का दावे कर रहे हैं। जवानों के पास बुनियादी सुविधाओं तक का आभाव था, उनके पास जूते तक नहीं थे। सेना को ताकतवर करने के बारे में कांग्रेस ने कभी नहीं सोचा।

देश की रक्षा कर रहें जवानों के लिए कांग्रेस संवेदनहीन थी। जब 10 साल तक इनकी सरकार थी, तो इन्होने सेना, वायुसेना और नौसेना की मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया कांग्रेस ने सेनाओं की जरूरतों को नजरअंदाज करने का काम किया, कांग्रेस ने नहीं चाहती कि सेना मजबूत हो। कांग्रेस चाहती नहीं चाहती है कि देश की वायुसेना मजबूत हो। राफेल सौदा रद्द कराने के लिए कांग्रेस किस कंपनी की भलाई चाहती है। इतिहास गवाह है कि कांग्रेस पार्टी और इनकी यूपीए सरकार का कालखंड रक्षा सौदों में दलाली के बिना काम करता ही नहीं था ‘आज बेनामी संपत्ति कानून आ गया है और कहां-कहां संपत्ति निकल रही है और इसी से कांग्रेस को परेशानी हो रही है।रुकावटों से ज्यादा मजबूत हमारे इरादे हैं, सेवाभाव और राष्ट्र को समर्पित सरकार में ही ऐसा हो सकता है। कांग्रेस ने विदेशी धन लाने के रास्ते खोल रखे थे, इन्होंने कभी रोकने की कोशिश नहीं की। इनको परेशानी हो रही है इसलिए मेरे खिलाफ अभद्र भाषा बोली जा रही है।’