महात्‍मा गांधी के बारे में ‘आपत्तिजनक’ पर्चे बांटना हिन्‍दू महासभा को पड़ा भारी, 4 लोग गिरफ्तार

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में करीब एक पखवाड़े पहले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में ‘आपत्तिजनक’ शब्दों वाले पर्चे कथित तौर पर वितरित करने को लेकर पुलिस ने हिंदू महासभा के चार कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है।

यह जानकारी कोतवाली थाना प्रभारी विवेक अष्ठाना ने दी। यह कार्रवाई भाजपा की लोकसभा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर द्वारा महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को लेकर बुधवार को लोकसभा में आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर हंगामे के बीच आयी है।

बता दें, हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने 15 नवंबर को ग्‍वालियर में संगठन के कार्यालय में गोडसे की बरसी मनाई थी।

कोतवाली थाना प्रभारी विवेक अष्ठाना ने बताया, ‘हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने इससे एक दिन पहले इलाके में कुछ पर्चे वितरित किए थे। इस पर्चे को लेकर कोतवाली में कुछ गांधीवादी लोगों ने अपनी भावनाएं आहत होने की शिकायत की थी।’

उन्होंने कहा कि इसके बाद पुलिस ने जांच की और शुरुआत में एक कार्यकर्ता नरेश बाथम एवं अन्य कार्यकर्ताओं के खिलाफ धारा 153 (क) के तहत मामला दर्ज किया। इस मामले की जांच में तीन लोगों पवन माहौर, किशोर और आनंद माहौर के नाम भी सामने आए थे।

अष्ठाना ने आगे बताया, ‘अब पुलिस ने इन चारों को गिरफ्तार कर लिया है। किशोर और आनंद को दो दिन पहले गिरफ्तार किया गया, जबकि नरेश और पवन को 28 नवंबर की शाम को गिरफ्तार किया गया।

हिन्‍दू महासभा के कार्यकर्ताओं ने गत 15 नवंबर को ग्वालियर के दौलतगंज स्थित कार्यालय में नाथूराम गोडसे और सहषड्यंत्रकर्ता नारायण आप्टे की तस्वीर की ‘आरती’ की थी।