JNU घटना RSS और BJP की सोची समझी चाल: बहुगुणा - Tez News
Home > India News > JNU घटना RSS और BJP की सोची समझी चाल: बहुगुणा

JNU घटना RSS और BJP की सोची समझी चाल: बहुगुणा

प्रतापगढ़ – प्रतापगढ़ में कांग्रेस के वरिष्ट नेता एवं पूर्व विधायक प्रभाकर नाथ दिवेदी के पुण्य तिथि के अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करने आई कांग्रेस की वरिष्ठ नेता एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता रीता बहुगणा जोशी ने केंद्र सरकार और आरएसएस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कांग्रेस और राहुल गांधी को राष्ट्र विरोधी कहने के मुद्दे पर आरएसएस को ही जेएनयू की घटना का सबसे बड़ा कारण बताया। रीता ने कहा की जेएनयू की घटना आरएसएस की ही सबसे बड़ी सोची समझी चाल है। आरएसएस अपनी विचार धारा को जेएनयू के युवाओं और छात्रों पर थोपना चाहती है। छात्रों ने जब इसका विरोध किया तो उसे राष्ट्रद्रोह में फ़ंसाने का कुचक्र आरएसएस रच रही है ।

उन्होंने कहा की जेएनयू की घटना आरएसएस और बीजेपी की सोची समझी चाल है। आरएसएस अपनी विचारधारा को युवाओं पर जबरन थोपना चाहती है। जिसने आरएसएस की विचारधारा का विरोध किया उसे जबरन राष्ट्रद्रोह के मुकदमे में फ़साने की कोशिश की जा रही है। जबकि आरएसएस खुद न तो राष्ट्रीयता में विस्वास रखती है, न ही देश के सबसे बड़े पर्व 15 अगस्त और 26 जनवरी को अपने कार्यालयों में तिरंगा फहराती है। बजाय इसके वह भगवा झंडा फहराती है।

प्रतापगढ़ में कांग्रेस के वरिष्ट नेता एवं पूर्व विधायक प्रभाकर नाथ दिवेदी के पुण्य तिथि के अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करने आई कांग्रेस की वरिष्ठ नेता एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता रीता बहुगणा जोशी ने केंद्र सरकार और आरएसएस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कांग्रेस और राहुल गांधी को राष्ट्र विरोधी कहने के मुद्दे पर आरएसएस को ही जेएनयू की घटना का सबसे बड़ा कारण बताया। रीता ने कहा की जेएनयू की घटना आरएसएस की ही सबसे बड़ी सोची समझी चाल है। आरएसएस अपनी विचार धारा को जेएनयू के युवाओं और छात्रों पर थोपना चाहती है। छात्रों ने जब इसका विरोध किया तो उसे राष्ट्रद्रोह में फ़ंसाने का कुचक्र आरएसएस रच रही है ।

रीता जोशी ने राहुल गांधी और कांग्रेस को देश द्रोही की संज्ञा दिए जाने पर आरएसएस को ही कटघरे में खड़ा किया है। रीता ने कहा की जिस आरएसएस ने 15 अगस्त को मिली देश की सबसे बड़ी आजादी को स्वीकार न करके तिरंगा नहीं फहराया। जिस आरएसएस के कार्यालय में आज भी 15अगस्त और 26 जनवरी को तिरंगा फहराने के बजाय भगवा फहराया जाता हो, वह कांग्रेस के राहुल गांधी और उसके परिवार को देश द्रोही करार देगा । आरएसएस खुद राष्ट्र द्रोही है। रिपोर्ट @ हर्ष मिश्रा

loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com