संक्रमित पाए जाने के बाद प्रदीप दास व सुरक्षाकर्मियों को प्रशासन ने आइसोलेट कर दिया है। बता दें कि अयोध्या में पांच अगस्त को भूमि पूजन होने वाला है। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित करीब 200 लोग शामिल होंगे। यह एक ऐतिहासिक क्षण होगा जिसकी जोर-शोर से तैयारियां की जा रही हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण ने कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर एक मुश्किल खड़ी कर दी है।

लखनऊ : अयोध्या में भूमिपूजन की तैयारियों को कोरोना संकट प्रभावित कर रहा है। गुरुवार को राम जन्मभूमि के पुजारी प्रदीप दास कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। प्रदीप दास राम जन्मभूमि के प्रधान पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास के शिष्य हैं। उनके अलावा, राम जन्मभूमि की सुरक्षा में तैनात 14 सुरक्षाकर्मी भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

संक्रमित पाए जाने के बाद प्रदीप दास व सुरक्षाकर्मियों को प्रशासन ने आइसोलेट कर दिया है। बता दें कि अयोध्या में पांच अगस्त को भूमि पूजन होने वाला है। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित करीब 200 लोग शामिल होंगे। यह एक ऐतिहासिक क्षण होगा जिसकी जोर-शोर से तैयारियां की जा रही हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण ने कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर एक मुश्किल खड़ी कर दी है।

हालांकि, आयोजन को लेकर पूरी सतर्कता बरती जा रही है। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने रामभक्तों से अपील की है कि वह पांच अगस्त को अयोध्या न आएं और दूरदर्शन पर ही कार्यक्रम का प्रसारण देखें।

ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने लोगों से अपील की है कि भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होने के लिए व्यग्र न हों। दूरदर्शन पर सजीव प्रसारण देखें और शाम को अपने घर पर दीपक जलाकर इस दिव्य व भव्य अवसर का स्वागत करें।