Home > India > लोकसभा में बोले मोदी हम कुत्तों वाली परंपरा से पले-बढ़े नहीं हैं

लोकसभा में बोले मोदी हम कुत्तों वाली परंपरा से पले-बढ़े नहीं हैं

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज लोकसभा में राष्ट्रपति के भाषण पर धन्यवाद दिया, अपने भाषण के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई ऐसी लाइनों का प्रयोग किया जो किसी भी फिल्म के डॉयलॉग को पीछे छोड़ सकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में अपने खास अंदाज में दिया। प्रधानमंत्री ने ना सिर्फ राहुल गांधी, बल्कि कांग्रेस पर जमकर हमला बोला और इस दौरान कई ऐसे वन लाइनर्स का इस्तेमाल किया जो काफी रोचक हैं।

बजट सत्र में मंगलवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव देने आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ ऐसा कह दिया जिससे आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान सीट से उठ गए। दरअसल, पीएम मोदी ने सदन में चार्वाक दर्शन का श्लोक सुनाया और उसे सांसद भगवंत मान से जोड़ दिया।

पीएम ने कहा- ‘ चार्वाक कहते थे – यावज्जीवेत्सुखं जीवेत् ऋणं कृत्वा घृतं पिबेत्, भस्मीभूतस्य देहस्य पुनरागमनं कुतः। जब तक जियो, मौज करो, चिंता किस बात की कर्ज करो और घी पियो।’ पीएम ने आगे कहा कि ‘ उस जमाने में संस्कार थे, इसलिए घी कहा, भाई भगवंत मान नहीं और कुछ पीने का कहते।’ पीएम मोदी के इतना कहते ही मान अपनी सीट से उठ खड़े हुए और कुछ कहने लगे।

  • आखिर आ ही गया भूकंप, धमकी तो बहुत पहले सुनी थी
    आखिर भूकंप आया क्यों , जब कोई घोटाले में भी सेवाभाव देखता है तब जाकर भूकंप आता है
    कांग्रेस की कृपा है अब भी लोकतंत्र बचा है, आप प्रधानमंत्री बन पाए, वाह क्या शेर सुनाया
    आपने बहुत कृपा की जो देश का लोकतंत्र बचाया
    लोकतंत्र की ताकत है जो देश में गरीब का बेटा पीएम बन पाया
    हम कुत्तों वाली परंपरा से पले-बढ़े नहीं है
    तब भी कमल था और आज भी कमल है
    उनको लगता है आजादी सिर्फ एक परिवार ने दिलाई है
    पहले आवाज आती थी घोटाले में कितना गया, अब आवाज आती है कितना आया
    आपको गरीबों का हक लौटाना होगा






Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com