Home > India > संगीत विद्यालय का प्रोफेसर छात्रा के साथ मिला अर्द्धनग्न

संगीत विद्यालय का प्रोफेसर छात्रा के साथ मिला अर्द्धनग्न

allahabad-177

( फोटो साभार – अमर उजाला )

इलाहाबाद – इलाहाबाद विश्वविद्यालय के संगीत विभाग की छात्रा के यौन उत्पीड़न का आरोपी एसोसिएट प्रोफेसर धर्मपाल बृहस्पतिवार को एक और मामले में फंस गया। धर्मपाल कर्नलगंज में इलाहाबाद बैंक के एटीएम के पास स्थित अपने घर में एक छात्रा के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा गया।

अर्द्धनग्न अवस्था में मिले शिक्षक को छात्र घर से जूते, चप्पलों से पीटते हुए थाने ले आए। उसके मुंह पर गोबर भी पोत दिया गया। थाने पर भी धर्मपाल की धुनाई की गई। स्थिति बिगड़ने लगी तो छात्रों को लाठीचार्ज कर खदेड़ दिया गया। छात्रा की तहरीर पर धर्मपाल के खिलाफ छेड़खानी की धाराओं में मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया।

संगीत विभाग की छात्रा ने बुधवार को ही एसोसिएट प्रोफेसर पर छेड़खानी का आरोप लगाया था। छात्रा ने बृहस्पतिवार को ही वोमेंस एडवायजरी बोर्ड (वैब) के समक्ष लिखित शिकायत की है। चर्चा के दौरान ही हल्ला मचा कि आरोपी एसोसिएट प्रोफेसर कर्नलगंज में अपने मकान के तीसरे तल पर एक छात्रा के साथ है।

यह सुनते ही वोमेंस एडवायजरी बोर्ड (वैब) में मौजूद छात्र, मीडिया कर्मियों के साथ उसके घर पहुंच गए। छात्रों ने दरवाजा पीटना शुरू कर दिया। पायजामा पहने एसोसिएट प्रोफेसर धर्मपाल ने दरवाजा खोला। छात्र उसको धक्का देते हुए भीतर घुस गए। अंदर के कमरे में एमए की कीडगंज की रहने वाली छात्रा मिली। उसके भी कुछ कपड़े पास पड़े हुए थे। छात्रा पहले तो सकपकाई लेकिन जब छात्रों ने एसोसिएट प्रोफेसर को पीटना शुरू कर दिया तो उसने कहा कि उसका उत्पीड़न किया जा रहा था।

इसके बाद छात्रों ने एसोसिएट प्रोफेसर को कपड़ा पहनने का भी मौका नहीं दिया। वह उसे पीटते और धक्का मारते घर से बाहर से आए। इसी बीच किसी ने उसके मुंह पर गोबर पोत दिया। दर्जनों की भीड़ एसोसिएट प्रोफेसर को पीटते हुए थाने पर ले आई तो पुलिस भी दंग रह गई। थाने पर छात्रों की संख्या बढ़ती गई। शिक्षक को पीटा जाता रहा तो पुलिस ने बचाने के लिए उसे हवालात में डाल दिया।

एसोसिएट प्रोफेसर के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ी गई छात्रा ने पहले तो एसोसिएट प्रोफेसर धर्मपाल के खिलाफ छेड़खानी का मुकदमा दर्ज करवा दिया लेकिन परिजनों के पहुंचने के बाद पलट गई। छात्रा ने रात में लिखित दिया कि वह दीप सिंह, रजनीश सिंह और कौशल सिंह के भड़काने पर धर्मपाल को फंसाने के लिए उसके घर पहुंची थी। पूरा मामला पहले से प्लान किया गया था। इन्हीं तीनों ने फोन कर मीडिया को बुलाया था। छात्रा के पलटने के बाद प्रोफेसर बाहर आ गए। उलटा प्रोफेसर ने ही दीप, रजनीश, कौशल और 50-60 के खिलाफ मारपीट, गालीगीलौज और बदनाम करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज करवा दिया।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com