Home > India News > पंजाब : पटाखा फैक्ट्री में धमाका, 19 लोगों की मौत, कई मलबे के नीचे दबे

पंजाब : पटाखा फैक्ट्री में धमाका, 19 लोगों की मौत, कई मलबे के नीचे दबे

पंजाब के गुरुदासपुर में बुधवार को एक पटाखा फैक्ट्री में ज़ोरदार धमाका हो गया। इस धमाके में 19 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि करीब 30 से 40 लोगों के घायल होने की खबर है।

धमाके की खबर पाते ही मौके पर दमकल विभाग की गाड़ियां और पुलिस पहुंच गई हैं। राहत और बचाव कार्य जारी है लेकिन अभी भी करीब 25 लोगों के फंसे होने की आशंका व्यक्त की जा रही है।

बठिंडा NDRF हेड क्वाटर से मिली जानकारी के मुताबिक, नूरपुर (कांगड़ा) और लाडोवाल (लुधियाना) से दो एनडीआरएफ की टीमें बटाला के लिए रवाना हुई हैं। ​

मिली जानकारी के मुताबिक, पटाखा फैक्ट्री पंजाब के गुरदासपुर के बटाला में है। पटाखा फैक्ट्री में धमाका करीब शाम पांच बजे के करीब हुआ।

धमाका इतना तेज था कि पूरी पटाखा फैक्ट्री जमींदोज हो गई। इस हादसे में अब तक 16 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 30 से 40 लोग घायल हैं।

सभी घायलों का निकट के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक, धमाके के बाद करीब 50 मजदूर गायब हैं, जिनके मलबे में फंसे होने की आशंका है।

धमाके की खबर सुनकर गुरुदासपुर से बीजेपी सांसद सनी देओल ने दुख प्रकट किया।

सनी देओल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि बटाला की पटाखा फैक्ट्री में धमाके की खबर से दुख हुआ। एनडीआरएफ की टीम और स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव कार्य में जुटा है।

वहीं मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बटाला में धमाके से हुई लोगों की मौत पर दुख जताया। सीएम ने कहा की डीसी और एसएसपी की अगुवाई में राहत-बचाव कार्य जारी है।

बटाला हॉस्पिटल का एक हेल्प लाइन नंबर- 01871240144 जारी किया गया है।

अकाली दल के वरिष्ठ नेता और पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया ने बटाला फैक्ट्री मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए सरकार पर हमला बोला।

मजीठिया ने कहा कि मैं जिनकी मौत हुई है, उनके परिवार के लिए मेरी संवेदना है। लेकिन मेरा पंजाब सरकार से सवाल है कि आवादी क्षेत्र में ऐसी पटाखा फ़ैक्टरी कैसे चलाई जा रही थी। क्या DC को ऐसी फ़ैक्टरी की जानकारी नहीं थी? ऐसा गैर कानूनी काम अफसरों के साथ बिना मिलीभगत से चल रहा था।

उन्होंने कहा कि सप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के बाद भी ऐसी फ़ैक्ट्री कैसे चल रही थी। इस सरकार में पहले अमृतसर फिर लुधियाना और अब यहां, लगातार ऐसे हादसे हो रहे हैं।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com