Home > Crime > शातिर नौकर ने मालिक की बस को कबाड़े में बेचा

शातिर नौकर ने मालिक की बस को कबाड़े में बेचा

Demo-Pic

Demo-Pic

फाजिल्का- राजस्थान के राय सिंह नगर की एक ट्रांसपोर्ट कंपनी के ड्राइवर ने बड़े शातिराना ढंग से अपने ही मालिक की बस को फाजिल्का के एक कबाड़ी को सवा लाख रुपए बेच दिया। मामले का खुलासा उस समय हुआ जब कंपनी के मालिक के करीबी रिश्तेदार ने फाजिल्का के एक कबाड़ी की दुकान पर बराड़ ट्रांसपोर्ट कंपनी की बस अच्छी हालत में बिना टायरों के खड़ी देखी। देर रात 11.30 बजे राय नगर थाने के ए स आई इंद्र सिंह पुलिस टीम के साथ फाजिल्का पहुंचे। रात 12.30 बजे के करीब थाना सदर के रोजनामचा में कार्रवाई दर्ज करवाकर बस ले गए। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ थाना राय सिंह नगर में केस दर्ज कर लिया है।
मामला ऐसे हुआ उजागर –

बराड़ ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिक गुरजंट सिंह के फाजिल्का में रहते एक रिश्तेदार ने फाजिल्का में कबाड़ी का काम करने वाले बाबा टायर वर्कर्स में बस देखी तो उसे आश्चर्य हुआ कि उनके रिश्तेदारों की बस कबाड़ी की दुकान पर कैसे खड़ी है और उसके टायर गायब हैं। उसने अपने राजस्थान रहते रिश्तेदार को फोन किया कि पूरे मामले के बारे में बताया। अपने रिश्तेदार की बात पर ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिक गुरजंट सिंह को यकीन नहीं हुआ। गुरजंट ने अपने रिश्तेदार को कहा कि उसने तो अपनी बस अपने ड्राइवर गुरप्रीत सिंह को 800 रुपए प्रति दिन के हिसाब से दो महीने से ठेके पर दे रखी है जिसके मार्च माह की अदायगी 24000 रुपए वह उसे दो किश्तों में कर गया है।

गुरजंट सिंह ने अपने रिश्तेदार को बस नंबर चैसी नंबर बताकर दोबारा कबाड़ी की दुकान में जाने को कहा। इस पर गुरजंट का रिश्तेदार दुबारा कबाड़ी की दुकान पर गया और सारी निशानियां गुरजंट सिंह को बताई तो गुरजंट सिंह को दाल में कुछ काला नजर आया। उसने तुरंत ड्राइवर गुरप्रीत को फोन किया तो उसका नंबर बंद रहा था। इस पर गुरजंट सिंह ने फाजिल्का जिले के गांव डंगरखेड़ा के समीप रहते अपने भतीजे दारा सिंह को सारा घटनाक्रम बताते हुए फाजिल्का उक्त कबाड़ी की दुकान पर पहुंचने को कहा। गुरजंट सिंह अपने पारिवारिक सदस्यों के साथ करीब 4 बजे फाजिल्का स्थित उक्त कबाड़ी की दुकान पर पहुंच गया था। 20 दिन पहले ही गुरप्रीत को बस दी ठेके पर। बस मालिक गुरजंट सिंह ने पूरे मामले को राय सिंह नगर पुलिस को अवगत करवा दिया है।

बराड़ ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिक गुरजंट सिंह ने बताया कि उसकी यह बस लगभग 5 लाख रुपए की है जिसे ठेके पर लेने वाले ड्राइवर गुरप्रीत सिंह ने मात्र सवा लाख रुपए में कबाड़ी को बेचा है। गुरजंट सिंह ने बताया कि लगभग 20 दिन पहले गुरप्रीत सिंह ठेके के पैसों की किश्त देने के दौरान ही उनसे मिला था तथा लगभग दो साल से उसके पास काम करता रहा था।

कबाड़ीए बृज मोहन ने बताया कि उस ने यह बस श्री गंगानगर के एक दुकानदार से ख़रीदी है, जिस की बाकायदा रसीदी टिकट लगा कर गवाहों के हस्ताक्षर भी करवाए हैं

वहीँ इस पोरे मामले में मीडीया से बात करते हुए थाना राय सिंह नगर राजस्थान के पुलिस अधिकारी ए स आई इंद्र सिंह ने बताया कि उन्होंने बस को कबाड़ी से बरामद कर लिया है और वह ईस सारे मामले की जाँच करके कानून के अनुसार बनती कार्रवाई करेंगे !
@इन्द्रजीत सिंह

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com