Home > State > Gujarat > गरबा करने वालों का ‘गौ-मूत्र’ छिड़ककर हुआ शुद्धिकरण

गरबा करने वालों का ‘गौ-मूत्र’ छिड़ककर हुआ शुद्धिकरण

देशभर में नवरात्रि का त्योहार धूमधाम से मनाया जा रहा है। गुरुवार से शुरु हुए नवरात्र के मौके पर देश के कई हिस्सों में गरबा नाइट्स का आयोजन किया गया है लेकिन सबसे ज्यादा गरबा गुजरात में किया जाता है।

गुजरात में कई जगहों पर गरबा नाइट्स का आयोजन किया गया है। वहीं गांधीनगर के थानगानाट गरबा कार्यक्रम की बात करें तो शुक्रवार को यहां पर गौ मूत्र छिड़ककर लोगों का स्वागत किया गया है। बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद द्वारा इस गरबा कार्यक्रम में आ रहे लोगों के ऊपर गौ मूत्र छिड़ककर शुद्धि की गई और फिर लाल रंग का टीका लगाया गया।

इस मामले के बारे में जब गांधीनगर पुलिस से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हमारे पास फिलहाल कोई ऐसी शिकायत दर्ज नहीं हुई है जिसमें बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद द्वारा जबरन गौ मूत्र के छिड़काव की बात कही गई हो।

गरबा में शरीक होने आए लोगों को इस शुद्धिकरण से कोई परेशानी नहीं है। इस पर बात करते हुए साक्षी परमार नाम की एक महिला ने कहा कि गौ मूत्र से शुद्धि करना हमारी प्राचीन संस्कृति का हिस्सा है और हमें इससे कोई परेशानी नहीं है। वहीं इस मामले के सामने आने के बाद जब थानगानाट गरबा के संयोजक संदीप जोशी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि बजरंग दल ने हमें पहले से ही इस बारे में सूचित कर दिया था। जोशी ने कहा कि यह घटना असुविधाजनक नहीं थी।

यहां गरबा नाइट में भाग लेने आए लोगों ने कहा कि विश्व हिंदू परिषद के सदस्य करीब 25 मिनट तक वेन्यू के बाहर खड़े हुए थे। बजरंग दल के एक कार्यकर्ता सूर्य प्रकाश वैष्णव ने कहा कि हम गांधीनगर और इसके पास के गांवों में जाकर युवा हिंदू लड़कियों को चेतावनी दे रहे हैं कि वे लव जिहाद से बचें।

टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार सूर्य प्रकाश ने कहा कि हम लोगों को जागरुक कर रहे हैं कि वे विशेष त्योहारों पर अतिथियों का गाय के मूत्र और लाल रंग का तिलक लगाकर स्वागत करें।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com