Home > Entertainment > Bollywood > ‘लय भारी’ मसाला फिल्में करना चाहती हूं !

‘लय भारी’ मसाला फिल्में करना चाहती हूं !

radhika apte hotनायिका के तौर पर हिन्दी में यह मेरी पहली फिल्म है। इंडस्ट्री में इस तरह के अवसर बार-बार नहीं मिलते। निर्देशक ने मुझे अपने रोल के लिए स्वतंत्रता दी, जिसके कारण मैं अपने किरदार के साथ न्याय कर सकी। साथ ही फिल्म के दौरान सभी का अच्छा सहयोग भी मिला। निर्देशक ने मेरे आइडियाज को भी सराहा, इसलिए मैंने खुलकर अपना शत-प्रतिशत दिया।

काफी। मैंने डॉक्टर्स और पीडि़त लोगों से बात की। मेरे पापा न्यूरोलॉजिस्ट हैं, इसलिए इस किरदार के लिए मुझे उनसे भी बहुत मदद मिली। बीमारी से संबंधित किताबों को पढऩे के अलावा कई वीडियोज भी देखे।

वैसे तो इंडस्ट्री में ऐसा कुछ भी नहीं है। लेकिन मुझे सबसे ज्यादा डर असुरक्षा से लगता है। इंडस्ट्री में सभी सफलता-विफलता और फेमस होने को लेकर डरे रहते हैं। इस लिहाज से इंडस्ट्री में इन्सिक्योरिटी नाम की चीज नहीं होनी चाहिए।

पता नहीं, लोग मेरे लिए ऐसा क्यों बोलते हैं। दरअसल, अलग तरह के रोल करना एक्टर का जॉब होता है। एक्टर को हमेशा ही कुछ अलग और नया करते रहना चाहिए।

अलग-सी दिखने वाली कोई बात नहीं है। वैसे मुझे अगर काम पसंद आता है तो ही करती हूं, वर्ना उसकी तरफ ध्यान भी नहीं देती। बस, मुझे अपना रोल पसंद आना चाहिए। मैं अपनी इस इमेज को हमेशा ही कायम रखना चाहूंगी।

मैं पहले ही इंडस्ट्री में ‘लय भारी ‘ टाइप की मसाला फिल्म कर चुकी हूं। भविष्य में भी अगर मुझे दमदार स्क्रिप्ट वाली मसाला फिल्में मिलती हैं तो जरूर करूंगी।

मैं अभी से ज्यादा कुछ नहीं बता सकती। फिल्म में मैं पहले रजनीकांत की लवर हूं और फिर उनकी वाइफ बन जाती हूं। इसके अलावा भी फिल्म में कई चीजें देखने को मिलेंगी। मुझे अभी से लगता है कि फिल्म हिट जाने वाली है।

मेरे लिए उनके साथ काम करना सबसे बेहतरीन एक्सपीरियंस रहा। वे प्रेरणादायक शख्सियत हैं। काफी बातें सीखने और समझने को मिलीं। साथ ही मेरी उनसे अच्छी दोस्ती भी हो गई। वे नम्र इंसान हैं। इतने सफल होने के बावजूद उनमें एटीट्यूड नहीं है।

मैंने अभी तक अपने कॅरियर को कभी भी आगे या पीछे नहीं देखा है। मैं हमेशा ही आज का देखती हूं। कभी भी कुछ प्लान नहीं किया है।
कई भाषाओं में फिल्में कीं, सबसे ज्यादा सहज किस में फील करती हैं?

मैं ज्यादा कुछ नहीं कह पाऊंगी। देखा जाए तो उनकी महत्वाकांक्षाएं अलग होती हैं। अच्छा एक्टर बनने के लिए और स्टार बनने के लिए बिलकुल ही हटकर एम्बिशन होता है। दोनों का रास्ता भी अलग ही होता है। कुछ अच्छे एक्टर्स बहुत बड़े स्टार हैं तो कुछ एक्टर ही हैं।

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .