कोरोना के समय में सैनेटाइजर, मास्क, साबुन, दस्तानों पर न लें GST – राहुल गांधी

 

कांग्रेस ने सोमवार को कहा कि वह सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग (एमएसएमई), प्रवासी मजदूरों और कृषि उपज की खरीद में किसानों को राहत देने के लिए जल्द ही केंद्र को अपनी सिफारिश भेजेगी।


देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सोमवार को बढ़कर 17,656 हो गए हैं। ऐसे में सरकार की ओर से इसके प्रसार को रोकने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।

वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम में इस्‍तेमाल होने वाले सैनेटाइजर, साबुन, मास्‍क व अन्‍य सामान पर अब भी जीएसटी (GST) वसूला जा रहा है। उन्‍होंने सरकार से मांग की कि इन वस्‍तुओं को जीएसटी फ्री किया जाए।

राहुल गांधी ने सोमवार को ट्वीट करते हुए कहा, ‘कोविड 19 के इस मुश्किल वक्त में हम लगातार सरकार से मांग कर रहे हैं कि इस महामारी के उपचार से जुड़े सभी छोटे-बड़े उपकरण GST मुक्त किए जाएं। बीमारी और गरीबी से जूझती जनता से सैनेटाइजर, साबुन, मास्क, दस्ताने आदि पर GST वसूलना गलत है। #GSTFreeCorona मांग पर हम डटे रहेंगे।’

वहीं कांग्रेस ने सोमवार को कहा कि वह सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग (एमएसएमई), प्रवासी मजदूरों और कृषि उपज की खरीद में किसानों को राहत देने के लिए जल्द ही केंद्र को अपनी सिफारिश भेजेगी।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में कांग्रेस सलाहकार समूह की पहली बैठक के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने यह भी कहा कि सरकार को सभी जनधन, किसान सम्मान और पेंशन योजनाओं से जुड़े खातों में 7500 रुपये डालने चाहिए।

रमेश भी इस सलाहकार समूह के सदस्य हैं। उन्होंने वीडियो लिंक के जरिये संवाददाताओं से कहा, ‘सरकार ने अब तक जो कदम उठाए हैं वो अपर्याप्त हैं। हम सरकार को अपनी तरफ से सुझाव देंगे।’

रमेश के मुताबिक कांग्रेस एमएसएमई, मजदूरों और किसानों को राहत देने के लिए अगले एक- दो दिनों में अपनी सिफारिश केंद्र सरकार को भेजेगी।

उन्होंने कहा कि सभी जनधन खातों, किसान सम्मान निधि खातों, बुजुर्गों, विधवाओं एवं दिव्यांगों के पेंशन खातों में 7500 रुपये डाले जाएं।