Home > State > Delhi > इराक में भारतीयों की मौत से ध्यान हटाने के लिए गढ़ी डेटा लीक की कहानी :राहुल गांधी

इराक में भारतीयों की मौत से ध्यान हटाने के लिए गढ़ी डेटा लीक की कहानी :राहुल गांधी

नई दिल्ली : कैम्ब्रिज एनालिटिका नाम की फर्म द्वारा चुनावों के लिए वोटर्स को मैनिप्युलेट करने के खुलासे के बाद बीजेपी और कांग्रेस भिड़ी हुईं हैं। दोनों पार्टियों ने एक-दूसरे पर चुनावों में कैम्ब्रिज एनालिटिका की सेवा लेने का आरोप लगाया है। इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी के आरोपों पर पलटवार किया है। राहुल गांधी ने कहा है कि इराक में 39 भारतीयों की मौत से ध्यान हटाने के लिए कांग्रेस और डेटा लीक की यह कहानी गढ़ी गई है।

बुधवार को कैम्ब्रिज एनालिटिका और फेसबुक बिग डेटा लीक का मामला सामने आने के बाद केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर निशाना साधा था। रविशंकर प्रसाद का आरोप था कि कांग्रेस 2019 के चुनावों के लिए कैम्ब्रिज एनालिटिका के संपर्क में थी। इसपर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कैम्ब्रिज एनालिटका की वेबसाइट से मिली जानकारियों के आधार पर दावा किया कि 2010 के बिहार चुनाव में बीजेपी ने इस एजेंसी की सेवाएं ली थीं। अब राहुल गांधी ने इसे इराक में 39 भारतीयों की मौत से जोड़ा है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा कि इराक में 39 भारतीयों की मौत हुई। सरकार सोती रही और झूठ बोलती पकड़ी गई। राहुल ने आगे लिखा कि इसके उपाय के तौर पर कांग्रेस और डेटा चोरी की कहानी गढ़ी गई। इसका नतीजा यह हुआ कि मीडिया नेटवर्क से 39 भारतीयों की मौत की खबर गायब हो गई और सरकार की समस्या का समाधान हो गया।

गौरतलब है कि मंगलवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इराक में लापता हुए 39 भारतीयों के मारे जाने की पुष्टि की थी। इसपर कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर हमला बोला था। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरेजावाल ने दावा किया कि सरकार ने हड़बड़ी में यह बयान इसलिए दिया क्योंकि शहीदों के लिए काम करने वाली इराक की असोसिएशन इस सच्चाई को बताने वाली थी। उन्होंने आरोप लगाया कि जब बीजेपी को लगा कि पोल खुल जाएगी तो हड़बड़ी में यह बयान दिया गया।

Facebook Comments
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com