राहुल गांधी ने कहा कि यह एक और ख़ौफ़नाक उदाहरण है कि भाजपा सरकार देश के संसाधन लूटने वाले चुनिंदा सूट-बूट के ‘मित्रों’ के लिए क्या-क्या करती आ रही है।

कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना महामारी के मामले में एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।

उन्‍होंने सोमवार को एक ट्वीट करके मोदी सरकार पर कोरोना वॉरियर्स को सुरक्षा, सम्‍मान और सुविधाओं के मामले में विश्‍वासघात करने का आरोप लगाया।

राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘ कोरो‍ना वॉरियर्स के लिए ताली-थाली बजाकर जनता ने मोदी जी पर विश्वास जताया लेकिन मोदी सरकार ने कोरोना वॉरीयर्स की सहायता करने से हाथ खींच कर हमेशा की तरह विश्वासघात किया। सरकार को कोरोना वॉरीयर्स को सुरक्षा, सम्मान और सुविधाएँ देनी ही होंगी।’

अपने ट्वीट के साथ राहुल ने एक खबर टैग की है जिसमें कोरोना संक्रमण के कारण देश के 18 राज्‍यों में अब तक 196 डॉक्‍टरों की मौत होने की जानकारी दी गई है।

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी इस समय पीएम नरेंद्र मोदी और उनके नेतृत्‍व वाली सरकार पर खासे हमलावर हैं। चीन मुद्दा हो या फिर कोरोना मामला, राहुल ने एनडीए सरकार पर लगातार निशाना साधा है।

EIA 2020 ड्राफ्ट यानी कि पर्यावरण प्रभाव आकलन मसौदे को लेकर भी राहुल गांधी ने सोमवार को मोदी सरकार पर निशाना साधा।

उन्‍होंने कहा कि EIA2020 ड्राफ़्ट का मक़सद देश के संसाधनों की लूट है, इसके लिए उन्होंने #LootOfTheNation का भी इस्तेमाल किया।

राहुल गांधी ने कहा कि यह एक और ख़ौफ़नाक उदाहरण है कि भाजपा सरकार देश के संसाधन लूटने वाले चुनिंदा सूट-बूट के ‘मित्रों’ के लिए क्या-क्या करती आ रही है।

उन्होंने कहा कि इस ड्राफ्ट को रोका जाना चाहिए ताकि पर्यावरण की बर्बादी और उसके जरिए होने वाली लूट को रोका जा सके।

रविवार को ही राहुल ने वीडियो संदेश में कहा था- पीएम नरेंद्र मोदी की नीतियों ने देश के 14 करोड़ लोगों को बेरोजगार बना दिया।

राहुल ने कहा, जब नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने थे, उन्होंने देश के युवाओं से वायदा किया था कि वे दो करोड़ युवाओं को हर साल रोजगार दिलवाएंगे। बहुत बड़ा सपना दिया, सच्चाई निकली- 14 करोड़ लोगों को नरेंद्र मोदी जी की पॉलिसीज (नीतियों) ने बेरोजगार बना दिया है। ये क्यों हुआ- गलत पॉलिसीज के कारण।

वीडियो संदेश में राहुल ने कहा है कि नोटबंदी, गलत जीएसटी और फिर लॉकडाउन, इन तीन कदमों ने हिंदुस्तान के इकोनॉमिक स्ट्रक्चर को खत्म कर दिया है, नष्ट कर दिया है। और अब सच्चाई ये है कि हिंदुस्तान अपने युवाओं को रोजगार नहीं दे सकता है। इसीलिए यूथ कांग्रेस जमीन पर उतर रही है और मुझे बहुत खुशी है कि इस मुद्दे को यूथ कांग्रेस हर कस्बे में सड़कों पर उठाएगी और पूरे दम से इस मुद्दे को उठाने जा रही है।