पटना : रेल मंत्री पीयूष गोयल ने राजधानी पटना में आर ब्लॉक-दीघा रेल लाइन की जमीन का बिहार सरकार को हस्तांतरण किया। साथ ही रेल परियोजनाओं का शुभारंभ एवं शिलान्यास किया।

पटना में आयोजित कार्यक्रम के साथ-साथ अररिया, सुपौल एवं हरनगर में भी एक समारोह का आयोजन किया गया। इसके बाद रेल मंत्री आरा में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे।

पटना में कार्यक्रम के दौरान रेल मंत्री ने रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) की महिलाओं को 50 फीसद आरक्षण देने की भी घोषणा की।

गोयल ने यह भी कहा कि अब 9500-10000 आरपीएफ जवानों की आगामी भर्ती में, महिलाओं के लिए 50% आरक्षण होगा और रेलवे में 13,00,00 नौकरियां भी लाई जाएंगी। ये सब कंप्यूटर आधारित परीक्षा होगी, कोई साक्षात्कार नहीं होगा।

पटना के बापू सभागार में आयोजित कार्यक्रम में रेल मंत्री पियूष गोयल ने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बिहार में 165 फीसद का अतिरिक्‍त निवेश किया है।

2009 से 2014 के बीच 5.5 हजार करोड़ रुपये का निवेश था, जो अब बढ़ कर 15 हजार करोड़ हो गया है। उन्होंने कहा कि बिहार के विकास को रेलवे की योजनाएं भी गति देंगीं।

रेल मंत्री ने रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) की महिलाओं को 50 फीसद आरक्षण देने की भी घोषणा की। रेल मंत्री ने कहा कि सभी महत्वपूर्ण स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।

पटना घाट से पटना साहिब की जमीन भी रलवे जल्द ही बिहार सरकार को दे देगी। कोसी ब्रिज का काम भी 10 महीने के भीतर पूरा कर लिया जाएगा।

रेल मंत्री ने कहा कि बिहार में बिजली के क्षेत्र में तेजी से विकास हो रहा है। नवंबर-दिसंबर तक हर घर में बिजली पहुंच जाएगी। जीएसटी को सही राज्‍य ने बेहतर लागू किया है। उन्‍होंने इसके लिए मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी को बधाई दी।