कठुआ गैंगरेप:आरोपियों के समर्थन रैली निकलने वाले BJP MLA को पार्टी ने बनाया मंत्री

0
17

जम्मू : जम्मू-कश्मीर की बीजेपी-पीडीपी सरकार में आज (30 अप्रैल) मंत्रिमंडल का विस्तार किया गया। इस दौरान जम्मू-कश्मीर विधानसभा अध्यक्ष कवीन्द्र गुप्ता और सात दूसरे विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली। मंत्रिमंडल विस्तार में सबसे चौंकाने वाला पहलू रहा कठुआ विधायक राजीव जसरोटिया को मंत्री बनाया जाना। बता दें कि जम्मू-कश्मीर के चर्चित कठुआ गैंगरेप में आरोपियों के समर्थन में निकाली गई रैली में कठुआ विधायक राजीव जसरोटिया दिखे थे। बावजूद इसके पार्टी ने उन्हें मंत्री बनाया है। इस बारे में जब टाइम्स नाउ ने राजीव जसरोटिया से सवाल पूछा तो उन्होंने जवाब देने से इनकार कर दिया। राजीव जसरोटिया ने इतना कहा कि वह रैली में शामिल नहीं थे।

हालांकि, आरोपियों के समर्थन में आयोजित हुई रैली में शामिल होने वाले भाजपा के दो मंत्री लाल सिंह और चंद्र प्रकाश गंगा को इस महीने की शुरुआत में ही अपने अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था। इस मुद्दे पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने राज्य सरकार पर हमला बोला है। उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया, “कठुआ गैंगरेप के आरोपियों के समर्थन में हुई रैली में शामिल होने के लिए बीजेपी ने दो मंत्रियों को हटा दिया, लेकिन एक एमएलए जिसके बारे में रैली में शामिल होने की सूचना है, उसे मंत्री बना दिया गया, बीजेपी और महबूबा मुफ्ती कठुआ गैंगरेप पर अपने स्टैंड को लेकर कन्फ्यूज क्यों है?”

बता दें कि मंत्रिमंडल विस्तार में बीजेपी ने जम्मू-कश्मीर विधानसभा अध्यक्ष कवींद्र गुप्ता को मंत्री बनाया है। भाजपा के जिन नये चेहरों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी गयी है, उनमें पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष सतपाल शर्मा और सांबा के विधायक दविंदर कुमार मान्याल शामिल हैं। राज्य सरकार में परिवहन राज्य मंत्री सुनील शर्मा को भाजपा ने कैबिनेट मंत्री के रूप में पदोन्नति दी है। डोडा के भाजपा विधायक शक्ति राज को राज्य मंत्री के रूप में शपथ दिलायी गयी है। पीडीपी के जिन सदस्यों को कैबिनेट में शामिल किया गया है, उनमें पुलवामा के विधायक मोहम्मद खलील बांद और सोनवर के विधायक मोहम्मद अशरफ मीर शामिल हैं। भारतीय जनता पार्टी ने निर्मल सिंह, स्वास्थ्य मंत्री बाली भगत और पर्यटन राज्य मंत्री प्रिया सेठी को हटा दिया है।