राम मंदिर बना रही है कमलनाथ सरकार !

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार सॉफ्ट हिन्‍दुत्‍व की राह पर चल पड़ी है। प्रदेश सरकार गाय और गौशाला के बाद अब राम मंदिर निर्माण भी करा रही है।

बुधवार को उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने इंदौर के पास सनावदिया में राम मंदिर की आधार शिला रख दी है। अयोध्या में भले ही राम मंदिर निर्माण का काम शुरू न हो पाया हो, लेकिन इंदौर में राम मंदिर निर्माण का काम शुरू हो गया है।

एक करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इस मंदिर में स्थानीय लोगों के अलावा सरकार का आध्यात्म विभाग सहयोग करेगा।

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने राम मंदिर के शिलान्यास के मौके पर कहा कि ये हिन्‍दू धर्म और देश के लिए गौरव की बात है कि इतना भव्य राममंदिर यहां बनाया जा रहा है। यहां से जो सकारात्मक संदेश निकलेगा वह पूरे देश में जाएगा।

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार सॉफ्ट हिंदुत्व के जरिये बीजेपी के एजेंडे को हाइजैक करने में लगी हुई है। एक साल पुरानी कमलनाथ सरकार ने गाय, मंदिर और गौशालाओं से जुड़े कई फैसले लिए हैं, जिस पर बीजेपी अब तक कई चुनाव लड़ती और जीतती आई है।

अब कमलनाथ सरकार इन्हीं मुद्दों पर अपनी पकड़ तेज करती जा रही है। यही कारण है कि मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर के विकास के लिए 300 करोड़ और ओंकारेश्वर के लिये 156 करोड़ रुपए की कार्ययोजना को मंजूरी दी है। इसके साथ ही प्रदेश में एक हजार गौशालाओं का निर्माण भी कराया जा रहा है।

इन सबसे आगे अब सरकार इंदौर के पास भव्य राम मंदिर भी बनाने जा रही है, जिसका शिलान्यास खेल और युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने सनावदिया गांव में किया। एक करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले इस मंदिर में स्थानीय लोगों के अलावा सरकार का आध्यात्म विभाग सहयोग करेगा।

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने राम मंदिर के शिलान्यास से मौके पर कहा कि ये हिन्‍दू धर्म और देश के लिए गौरव की बात है कि इतना भव्य राममंदिर यहां बनाया जा रहा है यहां से जो सकारात्मक संदेश निकलेगा वो पूरे देश में जाएगा।

उन्होंने कहा कांग्रेस पार्टी धर्म की राजनीति नहीं करती और गाय, गौशाला और मंदिरों पर सिर्फ बीजेपी का पेटेंट नहीं है।

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने राज्य सभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी के नोटों पर गांधीजी की बजाय लक्ष्मी जी की फ़ोटो छापने के बयान पर कहा पीएम मोदी से ज्यादा ज्ञानी सुब्रह्मण्यम स्वामी हैं। ये दोनों ज्ञानी मिलकर देश की अर्थव्यवस्था सुधारने का काम करें तो बेहतर होगा।

खंडवा में आयोजित एक कार्यक्रम में सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा था कि भारतीय नोटों पर अब गांधीजी के बजाय लक्ष्मी जी की फोटो होनी चाहिए।

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने इस दौरान योग गुरु बाबा रामदेव पर निशाना साधते हुए कहा पहले वो योग क्रिया करते थे। अब बाबा रामदेव अर्थ क्रिया करते हैं। इसलिए देश के बजाय योग गुरु बाबा रामदेव की अर्थव्यवस्था ज्यादा सुधरी है। इसलिए उन्हें अर्थव्यवस्था सुधरी हुई नजर आ रही है।

बाबा रामदेव ने कहा था कि नोटबंदी और जीएसटी से देश की अर्थव्यवस्था में सुधार आया है।