Home > India > राम मंदिर हमने तोडा, अयोध्या में नहीं थी मस्ज‌िद

राम मंदिर हमने तोडा, अयोध्या में नहीं थी मस्ज‌िद

कई बार आडवाणी और जोशी को अयोध्या मामले में बचाने की कोशिश कर चुके पूर्व सांसद राम विलास वेदांती ने कहना है क‌ि अयोध्या में कोई मस्ज‌िद नहीं थी, हमने राम मंदिर तोड़ा।

सीबीआई कोर्ट के ट्रायल के दौरान लखनऊ आए वेदांती ने कहा, केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार है। हमें पूरा व‌िश्वास है क‌ि अयोध्या में भव्य मंद‌िर बनेगा। योगी और मोदी जी दोनों मिलकर अयोध्या में रामलला का भव्य मंदिर बनवाएंगे।

वेदांती बोले, हमने खंडहर मंद‌िर तोड़ा था वहां मस्ज‌िद का कोई नामोन‌िशान नहीं था। मंदिर में राम भगवान, हनुमान भगवान सहित सभी देवी-देवताओं की मूर्ति थी।

राम विलास ने कहा, आडवाणी जी ने तो हमें रोका था आप लोग ढांचे से नीचे उतर आइए। आपकी कारसेवा पूरी हो गई। लेकिन राम भक्तों ने सोचा कि जब तक पुराना राम का मंदिर रहेगा तब तक नया नहीं बन पाएगा इसल‌िए हमने भक्तों को ललकार कर पुराने ढांचे को तुड़वाया।

वेदांती ने नारा भी लगाया, राम नाम सत्य है, रामलला का ढांचा ध्वस्त है। उन्होंने राम मंदिर तोड़े जाने की वजह भी बताई और कहा, हम पुराना ढांचा तोड़कर नया मंद‌िर बनवाना चाहते थे। इसमें आडवाणी और जोशी का कोई दोष नहीं है।

@एजेंसी

 

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com