सीताराम येचुरी के खिलाफ बाबा रामदेव ने दर्ज कराई FIR

0
24

हरिद्वार: सीपीएम नेता सीताराम येचुरी द्वारा रामायण और महाभारत को लेकर दिए गए विवादित बयान पर विवाद बढ़ता चला जा रहा है। येचुरी के बयान से नाराज योगगुरु बाबा रामदेव शनिवार को कुछ संतों के साथ एसएसपी हरिद्वार के समक्ष उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। सीपीआई नेता के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए रामदेव ने कहा कि, येचुरी को अपना नाम बदलकर सीताराम से रावण कर लेना चाहिए।

शनिवार को बाबा रामदेव कई संतों के साथ हरिद्वार में एसएसपी से मिले। उन्होंने एसएसपी को सीताराम येचुरी के खिलाफ लिखित शिकायत दी। इससे पहले बाबा रामदेव ने सीपीएम नेता के बयान पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि सीताराम येचुरी ने धार्मिक और सामाजिक पाप किया है। रामदेव ने कहा की देश के हर एक व्यक्ति को कम्युनिस्टों का बहिष्कार करना चाहिए। संतों ने कहा कि सीताराम येचुरी को अपना नाम बदल लेना चाहिए।

संतों का कहना है कि, येचुरी को अपना नाम बदलकर रावण, कंस, बाबर, तैमूर के नाम पर रख देना चाहिए। उन्होंने कहा कि सीताराम येचुरी को संस्कृत पढ़नी चाहिए। वह वेद, भागवत, रामायण पढ़ें। बता दें कि, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा था कि रामायण और महाभारत भी लड़ाई और हिंसा से भरी है। लेकिन एक प्रचारक के तौर पर उसे केवल एक महाकाव्य बताया जाता रहा हैं। उन्होंने कहा यह दावा करना ठीक नहीं है कि हिंदू हिंसक नहीं हो सकते। माकपा के महासचिव ने कहा था कि रामायण और महाभारत हिंसा के उदाहरणों से भरे पड़े हैं। इस के बाद यह कहना ठीक नहीं हैं कि हिंदू अहिंसक हैं।