Home > Business > ऐसी होगा 1000 रुपए का नए नोट, प्रिंटिंग शुरू !

ऐसी होगा 1000 रुपए का नए नोट, प्रिंटिंग शुरू !

नई दिल्ली : भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) बहुत जल्द 1000 रुपए के नए नोट जारी करने वाली है। सूत्रों की मानें तो आरबीआई ने 1000 रुपए की नई करेंसी की प्रिंटिंग का काम शुरू कर दिया है।

रिपोर्ट्स के अनुसार 1000 के नए नोट पहले जनवरी में लागू किए जाने थे लेकिन 2000 रुपए की करेंसी जारी होने के बाद मची अफरातफरी के बीच रिजर्व बैंक और सरकार ने 500 रुपए की करेंसी को जल्दी जारी कर दिया था। बहुत जल्द ही 1000 का नया नोट बाजार में आ जाएगा , ऐसी खबर मिल रही है कि 1000 के नया नोट की प्रिंटिंग शुरु हो चुकी है !

हालांकि यह अभी स्पष्ट नहीं है कि 1000 रुपये का नया नोट मार्केट में कब आएगा। जानकारी के मुताबिक 1000 रुपए के नए नोट में भी सुरक्षा के उच्चतम मानक तय किए जाएंगे। इन नोटों में 500 और 2000 रुपए की तरह मंगलयान, गांधी जी की तस्वीर, प्रिंटिंग से लेकर कई तरह के सुरक्षा मानकों का ध्यान रखा जाएगा। गौरतलब है कि 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी की घोषणा के तहत 500 और 1000 रुपये के नोटों को अमान्य करार दिया था।

कैसे होगा 1000 रुपए का नया नोट

हिंदी अखबार नवभारत में छपे लेख के मुताबिक 1000 रुपए के नए नोट पर काम अंतिम पड़ाव पर पहुंच गया है। RBI 1000 रुपए के नए नोटों के सिक्योरिटी फीचर्स पर काम कर रहा है।1000 रुपए के नए नोट का आकार या तो 500 रुपये या 2000 रुपए के नए नोटों के जैसा हो सकता है ताकि बैंकों को उनके मामले में एटीएम में बदलाव न करने पड़ें।

कैश सप्लाई में हुआ सुधार

बैंकरों ने कहा कि करेंसी छापने वाले प्रेस में कामकाज रफ्तार पर होने के कारण कैश सप्लाई की स्थिति में सुधार आया है।
राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में कई एटीएम में कैश न होने की शिकायतें बनी हुई हैं, वहीं बैंकों की शाखाओं में पर्याप्त करेंसी होने की बात की जा रही है।एक बैंकर ने कहा कि 500 और 1000 रुपये के रद्द घोषित नोटों में से करीब 14 लाख करोड़ नोट डिपॉजिट के रूप में बैंकों में आ चुके हैं।

8 नवंबर को बंद किए गए थे 500-1000 रुपए के पुराने नोट

आपको बता देमं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर को रात 8 बजे ऐलान किया था कि 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट रद्द कर दिए गए हैं।उस घोषणा के चलते तब सर्कुलेशन में रहे नोटों का 86 पर्सेंट हिस्सा इनवैलिड हो गया था।
सरकार ने कहा था कि ब्लैक मनी, नकली करेंसी और आतंकवादियों को पैसा मुहैया कराने की हरकत पर काबू पाने के लिए डीमॉनेटाइजेशन का कदम उठाया गया है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com