Mohammad Azam Khanनई दिल्ली- समाजवादी पार्टी के मंत्री आजम खान अपनी किसी राजनीतिक उपलब्धि से ज्यादा अपने विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं। इस बार आजम समलैंगिकों पर दिए जेटली के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया के चलते चर्चा में हैं। हाल ही में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने समलैंगिकों से जुड़े मुद्दे पर बयान दिया था। इस पर अाजम खान ने कहा है कि “आरएसएस पर तो इलजाम ही यही है। ये लोग इसीलिए शादी-ब्याह नहीं करते।

आजम के कहने का तात्पर्य ये था कि आरएसएस के लोग आपस में समलैंगिक संबंध रखते हैं और यही वजह है कि वे आजीवन किसी से शादी नहीं करते है। बताते चलें कि आरएसएस में महिलाओं को सदस्यता नहीं दी जाती है। संस्था की महिला विंग का नाम राष्ट्रीय सेविका समिति अलग है जिसमें पुरुषों को सदस्यता नहीं मिलती है।

गौरतलब है कि हाल ही में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने समलैंगिकों से जुड़े मुद्दे पर बयान दिया था। आजम खान का यह बयान उसी बयान की प्रतिक्रिया में आया है। समलैंगिकों के अधिकारों से जुड़े एक बयान में जेटली ने शनिवार को कहा था कि सुप्रीम कोर्ट को समलैंगिक रिश्तों से जुड़े अपने फैसले पर दोबारा सोचना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here