बांदा : मध्य प्रदेश के सतना में 12 फरवरी को किडनैप हुए दोनों छात्रों के शव यूपी के बांदा में यमुना नदी में मिले। मामले में ट्यूशन टीचर, स्कूल ट्रस्ट प्रबंधन के कर्मचारी के बेटे व कई अन्य के शामिल होने की बात सामने आ रही है। बता दें, दोनों जुड़वा भाई थे और दोनों का स्कूल बस से बंदूक की नोंक पर अपरहण कर लिया गया था। इस मामले में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहना है कि यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। हमें उम्मीद थी कि सरकार और प्रशासन इसे गंभीरता से लेगी और बच्चों को बचाएगी। इस घटना ने मुझे हिला कर रख दिया है।

जानकारी के मुताबिक, तेल कारोबारी ब्रजेश रावत के दोनों जुड़वां बच्चों का स्कूल बस से बीती 12 फरवरी को बंदूक की नोंक पर अपरहण कर लिया गया था। इस मामले में यूपी और एमपी की पुलिस के साथ एटीएफ की टीम भी लगी थी। बताया जा रहा है कि अपहरणकर्ताओं ने फिरौती की 25 लाख रकम लेने के बाद भी बच्चों की हत्या कर दी और शवों को यूपी के बांदा में यमुदा नदी में फेंककर फरार हो गए।

इस मामले में बच्चों के ट्यूशन टीचर, स्कूल ट्रस्ट प्रबंधन के कर्मचारी के बेटे और कई अन्य के शामिल होने की बात आ रही सामने। शव मिलने की जानकारी के बात क्षेत्र में तनाव फैल गया। पुलिस ने स्थिति को काबू में रखने के लिए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया है। पुलिस ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।