नई दिल्ली : निजी क्षेत्र के बड़े बैंक आईसीआईसीआई बैंक ने 30 लाख रुपये तक के होम लोन की ब्याज दरों में 0.3 फीसद तक की कटौती की घोषणा की है।

इसका सबसे बड़ा फायदा अफोर्डेबल हाउसिंग के तहत लोन लेने वाले ग्राहकों को मिलेगा। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सभी योग्य होम लोन ग्राहक 2.67 फीसद की इंट्रेस्टो सब्सिडी का फायदा भी उठा सकते हैं। यह जानकारी न्यूज एजेंसी पीटीआई से मिली है।

कटौती के बाद कामकाजी महिलाओं को 8.35 फीसद और अन्य को 8.40 फीसद की दर पर 30 लाख रुपये तक का होम लोन मिल सकेगा। आईसीआईसीआई बैंक की यह नई दरें 15 मई से नये ग्राहकों के लिए प्रभावी हो चुकी है। आईसीआईसीआई बैंक ने यह कटौती अफोर्डेबल हाउसिंग के तहत की है।

SBI ने सस्ता किया होम लोन

देश के सबसे बड़े सरकारी एवं कर्जदाता बैंक एसबीआई ने किफायती आवास ऋण में 25 आधार अंकों की भारी कमी की है। इस कमी के साथ इसे 8.35 फीसद कर दिया है जिसका फायदा नए कर्ज लेने वालों को मिलेगा। नई सरकारी योजना के अंतर्गत 30 लाख से कम के लोन किफायती आवास की श्रेणी में आते हैं।

पुरुष उधारकर्ताओं के लिए, सीमित अवधि की यह पेशकश 31 जुलाई तक मान्य है। राष्ट्रीय बैंकिंग के लिए एसबीआई के प्रबंध निदेशक, रजनीश कुमार ने एक सम्मेलन में यह बात कही है।

इसके साथ ही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने 30 लाख रुपए से ऊपर के होम लोन की दर को भी 0.10 फीसद घटा दिया है। यह खबर पीटीआई के हवाले से सामने आई है।

महिलाओं के लिए नई दर में 25 फीसद की कटौती नौकरीपेशा उधारकर्ताओं के लिए होगी और गैर-वेतनभोगी लोगों के लिए यह 20 बीपीएस होगी।

पुरुष वेतनभोगी और गैर-वेतनभोगी उधारकर्ताओं के लिए लागू दर समान होगी। उधारकर्ताओं के लिए 25 बीपीएस की कटौती के रूप में ईएमआई के रुप में 530 रुपये प्रतिमाह की बचत होगी।