Gold

बेलग्रेड- यूरोप के देश सर्बिया में सोने के कारोबार से जुड़ी मशहूर कंपनी ‘द लटारा माज़दानपेक’ अपने कर्मचारियों को सैलरी के बदले सोना दे रही। दरअसल कंपनी दिवालिया होने की कगार पर है और उसके पास वेतन के लिए पैसा बचा नहीं है।

ऐसे में उसने बकाया वेतन की एवज में सोना देने का अनोखी तरकीब निकाली। कंपनी के कर्मचारियों का पांच महीने का वेतन बकाया है। ऐसे में उसने अपने हर एक कर्मचारी को 22 कैरेट का 30 ग्राम सोना दिया, जिसकी कीमत क़रीब 73 हज़ार रुपये है।

ख़बरों के मुताबिक, कंपनी ने कर्मचारियों के वेतन के लिए आठ किलो सोना अलग रखा है। हालांकि कंपनी की यह पेशकश सभी कर्मचारियों को रास नहीं आ रही। कुछ कहते हैं कि कुछ को सोने की गिन्नी मिली है तो कुछ को टूटा हुआ सोना किसी को भी पूरा वेतन नहीं मिला। इससे नाखुश एक कर्मचारी ने इस प्रस्ताव को ठुकराया है।

कर्मचारियों का कहना है कि उनके वेतन का मूल्य गिरता जा रहा है, जबकि सोने का दाम वैश्विक बाज़ार में बढ़ा है। संयंत्र में काम करने वाली एक महिला कर्मचारी कहती हैं, ‘मैं और मेरे पति पिछले 32 सालों से इस संयंत्र में काम कर रहे हैं।

उन्होंने बताया, ‘पिछले पांच महीने के वेतन की जगह मुझे 31 ग्राम और मेरे पति को 36.5 ग्राम सोना मिला है। इसमें से ज्यादातर पैसे तो घर के बिल अदा करने में खर्च हो जाएंगे।’ वहीं कंपनी के निदेशक मिलिसा सेन्सकी का कहना है कि उनके पास कर्मचारियों को उनका वेतन देने का और कोई रास्ता नहीं था।

आपको बता दें कि साल 1970 में बना यह संयंत्र बीते 15 वर्षों से मुश्किल दौर से गुज़र रहा है। आने वाली 14 अक्टूबर को इस संयंत्र के निजीकरण की प्रक्रिया शुरू होगी, लेकिन अगर यह प्रक्रिया पूरी नहीं होती है तो कंपनी खुद को दीवालिया घोषित कर देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here