भाजपा अध्यक्ष अमित शाह तेलंगाना पहुंचे हुए हैं। उनके इस दौरे से राज्य के विधानसभा चुनावों का बिगुल बज गया है। यहां उन्होंने टीआरएस पर हमले किए।

यहां मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ समय पहले वन नेशन, वन इलेक्शन का विचार सामने रखा था और चंद्रशेखर राव ने इसका समर्थन भी किया था लेकिन अब उन्होंने अचानक अपनी कैबिनेट को भंग करके दो-दो चुनावों पर खर्च करने का फैसला ले लिया है।

उन्होंने कहा कि टीआरएस आरक्षण की राजनीति कर रही है लेकिन चुनावों में उसे जीत नहीं मिलेगी। उन्होंने कहा कि बीजेपी तेलंगाना की सभी सीटों से चुनाव लड़ेगी और बड़ी जीत हासिल करेगी।

शाह का कहना था कि टीआरएस वोट बैंक और तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है लेकिन राज्य की जनता जानती है कि विकास और कानून से जुड़े हर पहलू पर केसीआर की सरकार फेल रही है।

उन्होंने कहा कि चुनाव में हम बड़ी उम्मीद के साथ जा रहे हैं। बीजेपी को बड़ी जीत दिलवाइए। उन्होंने कहा कि यहां टीआरएस और कांग्रेस दोनों ही विपक्षी पार्टियां हैं, हम दोनों के ही खिलाफ लड़ेंगे।

पत्रकारों की ओर से पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर किए गए सवाल पर उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय परिस्थितियों की वजह से ऐसे हालात उठे हैं और सरकार इसे ठीक करने के लिए रास्ते ढूंढ रही है।

सीएम का चेहरा किसको बनाएंगे? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि पार्टी ने अभी कोई चेहरा नहीं चुना गया है।

अमित शाह ने तेलंगाना पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री मोदी की स्वच्छता ही सेवा अभियान के तहत हैदराबाद में सफाई अभियान में हिस्सा भी लिया।

अमित शाह दोपहर दो बजे हैदराबाद ओल्ड सिटी स्थित प्रसिद्ध लाल दरवाजा मंदिर के दर्शन करने जाएंगे। शाम चार बजे महबूबनगर में पार्टी के ‘बीजेपी शंकरवम’ कार्यक्रम में भाग लेंगे। 6:30 बजे कोथुर गांव में होटल पेपॉरस फोर्ट में पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों और जिला प्रभारियों के साथ महत्वपूर्ण विषयों पर बैठक करेंगे।