Smart-ForRail

क्‍या आपने दुनिया की सबसे छोटी कार के बारे में सुना है। शायद सुना होगा। लेकिन क्‍या वो कार पटरियों पर चलती है। आप यह नहीं जानते होंगे कि ब्रिटेन में दुनिया की सबसे छोटी कार फॉरफोर बनाई गई है, जो सड़क पर नहीं बल्कि पटरियों पर दौड़ती है।

इस कार के निर्माताओं को उम्‍मीद है कि इसका उपयोग कार पूलिंग तथा सार्वजनिक परिवहन के लिए किया जा सकेगा। इससे सड़कों पर से कारों का बोझ तो कम होगा ही साथ ही ट्रैफिक में खर्च होने वाले समय में भी कमी आएगी। हालांकि यह कार अभी टेस्टिंग के चरण में है और सफल नतीजों के आधार पर भी इसका भविष्‍य भी टिका हुआ है।

इस कार का डिजाइन यूनाइटेड किंगडम की कंपनी इंटरफ्लीट ने तैयार किया है। कंपनी ने दावा किया है कि यह कार मजाक में नहीं बल्कि हकीकत में बनाई जा रही है। इस कार में ठोस स्‍टील के टायर लगाए गए हैं। ताकि यह लोहे की पटरियों पर आसानी से दौड़ सके। कंपनी ने यह भी स्‍पष्‍ट किया है कि इस कार के लिए अलग से रेलरोड नहीं बनाए जाएंगे, बल्कि इस कार को पटरियों के लिए तैयार किया जाएगा।

यदि यह प्रयोग सफल रहता है तो यह कार दुनिया की सबसे छोटी ट्रेन होने का खिताब भी हासिल कर सकती है। इस कार का डिजाइन बनाने वाली इंटरफ्लीट कंपनी सामान्‍यत: 16 लीटर के डीजल इंजन वाले लोकोमोटिव बनाती है, जिनका वजन कम से कम 70 टन होता है।

फॉरफोर कार में लगाए गए स्‍टील के टायर्स का वजन 80 किलोग्राम है तथा इनका आकार 22 इंच का है। इंजीनियर्स इस कार से स्‍टीयरिंग को निकालने की योजना पर काम कर रहे हैं। फिलहाल इस कार की टेस्टिंग 16 किमी लंबे एक निजी रेल रूट पर किया जा रहा है। ऑटो डेस्‍क

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here