पायलट की वापसी के पीछे स्वयंसेवक का ‘पराक्रम’ – स्मृति ईरानी

0
13

पाकिस्तान के कब्जे से विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी पर केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ की है।

उन्होंने अभिनंदन की वापसी के लिए स्वयंसेवक के पराक्रम को श्रेय देते हुए कहा कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) को आज इस बात पर गर्व होगा कि भारत का बेटा एक स्वयंसेवक के पराक्रम के चलते 48 घंटे के अंदर ही भारत लौट रहा है।

इस दौरान आरएसएस के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने कहा कि राष्ट्र अभिनंदन के साथ है जिन्हें पाकिस्तान ने हिरासत में लिया था।

दरअसल, शुक्रवार को स्मृति ईरानी बीजेपी नेता और प्रवक्ता सुधांशु मित्तल द्वारा लिखी किताब ‘आरएसएस: बिल्डिंग इंडिया थ्रू सेवा’ के जारी किए जाने के मौके पर बोल रहीं थी। इस मौके पर आरएसएस के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले भी मौजूद थे।

स्मृति ईरानी ने इस दौरान कहा, “संघ (आरएसएस) आज इस पर गर्व कर सकता है कि भारत का एक बेटा एक स्वयंसेवक के ‘पराक्रम’ के कारण 48 घंटे में भारत लौट रहा है।’

माना जा रहा है कि उनका इशारा पीएम नरेंद्र मोदी की तरफ था। बता दें कि पीएम मोदी बीजेपी में आने से पहले संघ के प्रचारक थे।

इस कार्यक्रम में बोलते हुए दत्तात्रेय होसबोले ने कहा कि देश अभिनंदन के साथ है जिन्हें बुधवार को पाकिस्तान ने भारतीय एवं पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के बीच संघर्ष के दौरान पकड़ लिया था।

उन्होंने कहा कि वर्तमान माहौल के कारण लोगों में राष्ट्रभक्ति की भावना हिलोरे मार रही है। होसबोले ने आरएसएस के राष्ट्रव्यापी कार्य के बारे में भी विस्तार से बात की।

उन्होंने जोर देकर कहा, हम बिना किसी पूर्वाग्रह और भेदभाव के विभिन्न क्षेत्रों में समाज की सेवा करने में विश्वास रखते है।

इसके बाद सुधांशु मित्तल ने कहा कि उनकी पुस्तक आरएसएस और उसके कार्यों के बारे में तथ्यों को सामने रखती है और तमाम मिथकों का भंडाफोड़ करती है।

उन्होंने कहा कि संगठन को अक्सर आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है, भले ही वो राष्ट्र-निर्माण के कार्य में लगा हो।