blood_spatterसहारनपुर – बेटे की चाह में एक मां ने अपनी पांच माह की दुधमुही बच्ची की दरांती से गला काटकर हत्या कर दी। पकड़े जाने पर महिला ने हत्या के बाद बच्ची का लहू पीने की बात भी कही।

आरोपी को हिरासत में लेकर पुलिस ने शव बरामद कर ली है। माना जा रहा है कि तांत्रिक के झांसे में आकर बेटे की चाहत में बेटी की बलि दी गई है। इस मामले में आरोपी महिला के ससुर लालू की तहरीर पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है।

दिल दहला देने वाली उक्त सनसनीखेज वारदात मोहल्ला टांकान में घटित हुई। मोहल्ला टांकान निवासी अवनीश की दो बेटियां हैं। पुत्र न होने के कारण पति-पत्नी में अक्सर झगड़ा होता था। बृहस्पतिवार को उसकी पत्नी रीना घर में पांच माह की छोटी बेटी खुशी के साथ अकेली थी। चार वर्षीय बड़ी बेटी वंशिका अपनी बुआ के घर और अन्य परिजन किसी कार्य से घर से बाहर गए हुए थे। दोपहर बाद किसी ने पुलिस को सूचना दी कि रीना ने अपनी छोटी पुत्री की गला काटकर हत्या करके शव को कहीं छुपा दिया।

सूचना मिलते ही पुलिस मोहल्ले में पहुंच गई। वहां अवनीश के परिजनों ने पुलिस को बताया उसकी छोटी बेटी खुशी आज सुबह से गायब है। पुलिस ने बच्ची की मां रीना को हिरासत में ले लिया और कोतवाली ले आई। वहां उससे बच्ची के बारे में पूछताछ की जा रही है।

पूछताछ में रीना ने पुलिस को बताया उसने अपनी बेटी की हत्या करने के बाद उसका खून भी पीया था। पुत्र न होने पर पति उसे प्रताड़ित करता है। इस कारण उसे यह कदम उठाना पड़ा। देर रात पुलिस ने श्मशान से आरोपी महिला की निशानदेही पर बच्ची का शव बरामद कर लिया है। ससुर लालू ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि वह और उसकी पत्नी घर से बाहर गए थे। लौटने पर देखा बच्ची मृत पड़ी है। मेरी बहू जादू-टोने में विश्वास करती थी। और इसी के तहत बच्ची की हत्या की है। पुलिस ने इस तहरीर पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

कोतवाली प्रभारी बिजेंद्र यादव ने बताया महिला मानसिक रूप से कुछ विक्षिप्त लग रही है। आरोपी मां ने कोतवाली में जिस तरह खुद ही पुत्र की चाह में बच्ची की हत्या कर उसका खून पीने की बात कबूली है। उससे लगता है कि उसे किसी तांत्रिक ने बेटी की बलि चढ़ाकर पुत्र प्राप्त होने की बात कही हो सकती है, इसका भी पुलिस पता लगाने की कोशिश कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here