Home > Sports > Cricket > कावेरी विरोध : IPL के चेन्नई में होने वाले सभी मैच रद्द

कावेरी विरोध : IPL के चेन्नई में होने वाले सभी मैच रद्द

कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन को लेकर तमिलनाडु में राजनीतिक दलों का विरोध प्रदर्शन जारी है जिसके बाद चेन्नई पुलिस ने आईपीएल को सुरक्षा मुहैया कराने से इंकार कर दिया है। तमिलनाडु और कर्नाटक के बीच चल रहे कावेरी नदी जल विवाद के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के चेन्नई में होने वाले बाकी मैच रद्द हो सकते हैं।

कावेरी जल विवाद की आंच अब आईपीएल मैचों पर पड़ने लगी है इसे लेकर तमिलनाडु में तनाव का माहौल है। मीडिया सूत्रों के मुताबिक अब चेन्नई से आईपीएल के सभी मैच दूसरे वेन्यू पर शिफ्ट कर दिए गए हैं।

कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन को लेकर तमिलनाडु में राजनीतिक दलों का विरोध प्रदर्शन जारी है जिसके बाद चेन्नई पुलिस ने आईपीएल को सुरक्षा मुहैया कराने से इंकार कर दिया है। तमिलनाडु और कर्नाटक के बीच चल रहे कावेरी नदी जल विवाद के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के चेन्नई में होने वाले बाकी मैच रद्द हो सकते हैं।

सूत्रों के हवाले से ऐसी खबर है कि चेन्नई में खेले जाने वाले बाकी मैचों का आयोजन कावेरी मुद्दे की वजह से किसी दूसरी जगह हो सकता है। बता दें कि आईपीएल के सात मैचों का आयोजन 10 अप्रैल से 20 मई के बीच यहां होना है,10 अप्रैल वाला मैच चेपॉक स्टेडियम में कड़ी सुरक्षा के बीच खेला जा चुका है।बता दें कि मंगलवार को चेपॉक के मैदान पर दो साल बाद आईपीएल का मैच खेला गया था, चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच मुकाबले के दौरान भी विरोध प्रदर्शन हुआ।

इस सीजन में एम.ए. चिदंबरम स्टेडियम में कुल सात मैच होने थे, जिनमें से अभी सिर्फ एक ही मैच हुआ था। IPL कमिश्नर राजीव शुक्ला ने सुरक्षा बढ़ाने को लेकर केंद्रीय गृह सचिव से भी बात की और चेन्नई में IPL मैचों की सुरक्षा के लिए सीआरपीएफ की टुकड़ियां भेजने का प्रस्ताव रखा लेकिन इसमें कुछ खास प्रगति नहीं हुई जिसके बाद बीसीसीआई के सामने चेन्नई के मैचों का वेन्यू बदलने के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचा।10 अप्रैल के मैच के दौरान मैदान पर प्रदर्शनकारियों ने जूते फेंके थे ।

गौरतलब है कि आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच मैच के दौरान मैदान पर प्रदर्शनकारियों द्वारा जूते फेंके गए थे। कुछ युवा प्रदर्शनकारी स्टेडियम के अंदर घुस गए थे और उन्होंने मैदान पर एक जोड़ी जूते फेंक दिए, यह मामला कोलकाता की पारी के आठवें ओवर में हुआ।

रिपोर्ट के मुताबिक यह जूते सीमारेखा के पास तैनात चेन्नई के फील्डर रवींद्र जडेजा को निशाना बनाकर फेंके गए। यह जूते पट्टाबिरामन गेट की ओर से फेंके गए थे इसके बाद एक-दो जूते और फेंके गए जिसमें से एक जूता साउथ अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसी को जाकर लगा जिससे वह काफी नाराज भी दिखे।

उल्लेखनीय है कि कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग को लेकर राजनीतिक पार्टियां, तमिल समर्थक संगठन, स्वयंसेवी संगठन और छात्र समूह गत एक अप्रैल से प्रदर्शन कर रहे है।

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने कावेरी नदी के जल के बंटवारे में तमिलनाडु के हिस्से का पानी घटा दिया और कर्नाटक का हिस्सा बढ़ा दिया था इसके अलावा कावेरी जल प्रबंधन बोर्ड का अभी गठन नहीं हुआ।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .