Home > State > Gujarat > गुजरात में अबकी बार कांग्रेस सरकार टारगेट 125+

गुजरात में अबकी बार कांग्रेस सरकार टारगेट 125+

अहमदाबाद। गुजरात में चुनाव से पहले भाजपा घिरती हुई नज़र आ रही है। कांग्रेस खेमा मजबूती से इस बार राज्य में सरकार बनाने की कोशिश में लगा है। गुजरात की सत्ता से पिछले 22 साल से बाहर चल रही कांग्रेस को युवा पाटीदार नेताओं का साथ भी मिल गया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी इन युवाओं के साथ मजबूती से खड़े हैं।

गांधीनगर में आयोजित ‘नवसर्जन गुजरात जनादेश’ रैली में हिस्सा लेने के लिए राहुल जब अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचे, तो वहां अल्पेश ठाकोर ने उन्हें रिसीव किया।

  कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आज गुजरात दौरे पर पहुंचे। राहुल गांधी ने गांधीनगर में ओबीसी की नवर्सजन गुजरात जनादेश रैली में हिस्सा लिया। इस अवसर पर ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर कांग्रेस में शामिल हुए। मंच पर राहुल गांधी, अल्पेश ठाकोर और अशोक गहलोत मौजूद थे। राहुल गांधी की मौजूदगी में अल्पेश ठाकोर कांग्रेस में शामिल हुए। राहुल गांधी ने अल्पेश ठाकोर को मिठाई खिलाई। वहीं सुबह जब राहुल गांधी अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचे तो अल्पेश ठाकोर ने उनका स्वागत किया।

इस रैली से पहले राहुल और अल्पेश के बीच लंच पर चर्चा हुई। वहीं मुलाकात में हार्दिक पटेल भी शामिल थे। दोनों नेताओं के बीच होटल ताज में चर्चा हुई। गौरतलब है कि हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को समर्थन की बात कही थी।

हार्दिक पटेल ने स्पष्ट किया है कि वह न तो राहुल गांधी से मिले हैं और न ही कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं। हार्दिक ने कहा, “मैं पाटीदार के हक के काम को लेकर प्रतिबद्ध हूं और पाटीदारों को अपने वोट बैंक के तौर पर देखने वाली भाजपा के खिलाफ खुलकर काम करूंगा।”

हार्दिक ने आईएएनएस को बताया, “मुझे कांग्रेस में शामिल होने की कोई जरूरत नहीं है, हालांकि कांग्रेस को मेरा नैतिक समर्थन हासिल है।”

दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने भी समान रुख अपनाते हुए कहा, “मैं 2019 में भाजपा को हराने के लिए प्रतिबद्ध हूं, सिर्फ गुजरात में ही नहीं, बल्कि पूरे देश में।”

बता दें अल्पेश इससे पहले 2009 से 2012 तक कांग्रेस के ही साथ थे। अल्पेश के पिता खोड़ाजी ठाकोर भी कांग्रेस के पुराने नेता रहे हैं और अभी अहमदाबाद के ग्रामीण जिला अध्यक्ष हैं। वहीं अल्पेश ने भी कांग्रेस की टिकट पर पिछला जिला पंचायत चुनाव लड़ा, लेकिन हार गए थे।

इसके साथ ही कांग्रेस ने पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल और दलित नेता जिग्नेश मेवानी को भी इस रैली में शामिल होने की दावत दी थी। कांग्रेस इस बार सिंहासन पर वापसी की पूरी कोशिश कर रही है।

राज्य की 65 फीसदी आबादी की उम्र 35 साल से कम है, ऐसे कांग्रेस की कोशिश इस ‘युवा शक्ति’ को साध कर सत्ता तक पहुंचने की है। इसके लिए पार्टी हार्दिक पटेल, मेवानी और ठाकोर जैसे युवा नेताओं के पास अपने अपने समुदायों में खासा जनाधार है। इसलिए कांग्रेस इन्हें अपनी तरफ लाने की कोशिश कर रही है।

अल्पेश ठाकोर के भाषण की प्रमुख बातें :–
अबकी बार गुजरात में ना रुपया चलेगा, ना शराब चलेगी, इस बार सिर्फ कांग्रेस की सरकार चलेगी।
इस बार गुजरात में कांग्रेस की सरकार बनेगी और 125 से ज्यादा सीटें जीतेगी।
यह भी पढ़ें : मत्स्य नौकाओं में चीनी इंजन का विरोध कर रहे मछुआरों पर बलप्रयोग
आज गुजरात में हर तबका जागा है, वह होकर लड़ेगा और कांग्रेस की सरकार बनाएगा।
बीजेपी के 150 सीटों के लक्ष्य को अल्पेश ठाकोर ने झूठा करार दिया।
गुजरात में अबकी बार गरीबों-पिछड़ों की सरकार आएगी।
गुजरात में किसानों- बेरोजगारों के यहां विकास का जन्म ही नहीं हुआ, पहले उनके घर विकास का जन्म कराइए।
हमें सम्मान चाहिए, अगर सम्मान कांग्रेस में मिल रहा है, तो कांग्रेस में ही शामिल होना चाहिए।
गुजरात के अंदर जिस आंदोलन को लेकर हम लेकर निकले हैं, गरीबों, पिछड़ों, बेरोजगारों, किसानों के विकास की जिस विचारधारा को लेकर हम लड़ रहे हैं।
राहुल जी ने कहा कि यही तो कांग्रेस की विचाधारा है। यह सुनने पर हमने कांग्रेस से जुड़ने का फैसला है।
आज गुजरात जनादेश सम्मेलन में सभी गरीबों, युवाओं की तरफ से राहुल गांधी का स्वागत है।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .