Home > India News > यूपी- बाढ़ से बड़ी तबाही, शिवपाल हुए सख्त

यूपी- बाढ़ से बड़ी तबाही, शिवपाल हुए सख्त

Flood Situation in Varanasi and Allahabadलखनऊ: यूपी में बाढ़ पीड़ित प्रत्येक परिवार को 25 किलो आटा, 25 किलो चावल, 15 किलो आलू, 05 ली0 मिट्टी का तेल, 5 किलो दाल तथा साबुन, माचिस एवं मोमबत्ती समेत दैनिक उपयोगी सभी आवश्यक वस्तुओं को तत्काल उपलब्ध करने के आदेश हो गए है। साथ ही प्रत्येक जानवर के हिसाब से प्रति दिन 05 किलो भूसा, चोकर आदि भी उपलब्ध करानेे के भी निर्देश दिये गए है।

सरकार के वरिष्ट नेता, केबिनेट मंत्री शिवपाल यादव ने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को निर्देश जारी हुए है की पशुओं को महामारी/बाढ़ से होेने वाली बीमारियों से बचाने के लिए वैक्सीन, टीके लगवाने समेत सभी आवश्यक दवाओं को उपलब्ध कराया जाये तथा डाक्टरों की ड्यूटी लगाने एवं उनकी उपस्थिति भी मौके पर अनिवार्य किया जाये।

श्री यादव ने प्रमुख सचिव स्वास्थ्य को निर्देश दिया कि बाढ़ की वजह से होने वाली बीमारियों से निपटने के लिए सभी आवश्यक बन्दोबस्त कर लिया जाये तथा सभी सी एम ओ को भी मौके पर कैम्प करने के निर्देश दिये।

बाढ ने दे दी काशी वालो को काले पानी की सजा !

मंत्री शिवपाल यादव ने यहाँ विधान भवन के सभा कक्ष में बाढ़ से प्रभावित जनपदों में आवश्यक व्यवस्था/राहत उपलब्ध कराने के लिए प्रमुख सचिव सिंचाई एवं जल संसाधन, प्रमुख सचिव राजस्व, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य, प्रमुख सचिव गृह, राहत आयुक्त, प्रमुख सचिव पशुपालन, प्रमुख सचिव ऊर्जा/चेयरमैन ऊर्जा श्री संजय अग्रवाल, एडीजी कानून व्यवस्था दलजीत सिंह चैधरी तथा इसके साथ ही सभी सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बाढ़ प्रभावित जनपदों की समीक्षा कर रहे थे।

मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि बाढ़ से प्रभावित सभी क्षेत्रों मेें तत्काल राहत/खाद्य सामाग्री पहुंचाने की व्यवस्था की जाये। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि राहत सामाग्री के वितरण में ईमानदारी एवं पार्दर्शिता रखी जाये।

श्री यादव ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि निर्वाचन की तरह ही सभी अधिकारियों को बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में ड्यूटी लगाई जाये। उन्होंने कहा कि बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में जो अधिकारी/कर्मचारी ड्यूट में लापरवाही करे अथवा मना करे उसके विरूद्ध तत्काल आवश्यक कार्यवाही करें । श्री यादव ने कहा कि बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में किसी भी प्रकार की लापरवाही/शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

मंत्री ने बाढ़ से प्रभावित जनपदों/मण्डलों के जिलाधिकारी तथा मण्डलायुक्तों को भी बाढ़ से प्राभावित क्षेत्रों में कैम्प करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि मण्डलायुक्त/जिलाधिकारी लगातार निरीक्षण करके अधिकारियों/कर्मचारियों की ड्यूटी सुनिश्चित करायें। उन्होंने प्रमुख सचिव राजस्व को निर्देश दिये की सभी लेखपालों की हड़ताल खत्म कराके बाढ़ से निपटने में सहयोग करायें इसके साथ ही श्री यादव ने बाढ़ के बाद उनकी समस्याओं को भी सुनने एवं समाधान करने का आश्वासन दिया। श्री यादव ने कहा कि बाढ़ से पीड़ित व्यक्ति की मृत्यु होने पर तत्काल 04 लाख रूपये की आर्थिक मदद दी जाये।

श्री यादव ने प्रमुख सचिव गृह देबाशीष पाण्डा को निर्देश दिये कि बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षा के सभी आवश्यक बन्दोबस्त करें तथा आसपास के जिलों से भी फोर्स एवं बोट आदि मंगा लिया जाये। श्री यादव ने प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय अग्रवाल को निर्देश दिये कि बाढ़ खत्म होने के बाद जहां भी पोल गिर गये हैं वहां पर तत्काल लगायें तथा विद्युत की आपूर्ति के सम्बन्ध में आने वाली सभी समस्याओं को तत्काल प्राथमिकता से निपटायें। बैठक में सभी सम्बन्धित विभागों के प्रमुख सचिव, सचिव एवं अधिकारी उपस्थित थे।

शिवपाल यादव ने इससे पूर्व कल भी जनपद बलिया एवं गाजीपुर के बाढ़ प्रभावित जनपदों के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करके अधिकारियों को राहत सामाग्रियों के वितरण, सुरक्षा एवं अन्य सभी आवश्यक उपाय करने के निर्देश दिये थे तथा मण्डलायुक्तो एवं जिलाधिकारी को लगातार कैम्प करने एवं लगातार निरीक्षण एवं अधिकारियों की ड्यूटी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रां में सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये।

@ शाश्वत तिवारी




Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .